बिग breaking – कांग्रेसनेता एवं पूर्व चेयरमैन नगरपालिका तथा मंच के संरक्षक समेत 4 इस बहुचर्चित मामले से हुए बरी #parvteeyuthanmanch

ख़बर शेयर करें

haldwani एसकेटी डॉटकॉम

इस समय हल्द्वानी की सबसे बड़ी ब्रेकिंग खबर आ रही है कि पीसीसी के सदस्य रहे एवं पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष हेमंत बगड़वाल समेत चार लोगों को अपर जिला जज एडीजी की अदालत ने एक बहुचर्चित चोरी के मामले से बरी करते हुए निचली अदालत के फैसले को खारिज कर दिया है.

इस मामले में वकील रमेश चंद्र पांडे जोकि प्रिंटिंग का कार्य करते थे ने उत्थान मंच के संरक्षक बलवंत सिंह चुफाल पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष हेमंत सिंह बगड़वाल पत्रकार भुवन चंद जोशी,कुसुम खेड़ा निवासी एक अन्य भुवन चंद्र जोशी पर यह आरोप लगाया था कि उन्होंने उत्थान मंच में उनके किराए की दुकान से उनकी मशीनें चोरी कर ली थी.

यह मामला हल्द्वानी की कोर्ट में चला जहां कुछ वर्ष पूर्व इस कोर्ट ने इन चारों लोगों को चोरी के मामले में 3 साल की सजा सुनाई थी. इस सजा के खिलाफ स्थान मंच के संरक्षक बलवंत सिंह चुफाल पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष हेमंत बगड़वाल समेत इन सभी लोगों ने निचली अदालत के इस फैसले के खिलाफ ऊपरी एडीजे अदालत में मामला डाला था . जिसमें लंबी बहस और कानूनी जगह के बाद कोर्ट ने इन चारों को चोरी के आरोप से बरी करते हुए निचली अदालत के फैसले को निरस्त कर दिया है. यह इन चारों के वकील यह सिद्ध करने में सफल हो गए कि एडवोकेट रमेश चंद्र पांडे अपनी मशीन रखकर अपना कार्य कर रहे थे जबकि उनकी मशीन उत्थान मंच के किराए की दुकान में नहीं थी तो है चोरी कैसे हो गई इस पर लंबी जिरह के बाद अदालत ने इस मामले से इन सभी चारों को बरी करते हुए निचली अदालत के मामले को निरस्त कर दिया है.

उथान मंच के संस्थापक बलवंत सिंह चुफाल का स्वास्थ्य ठीक नहीं चल रहा है इस संबंध में जब नगर पालिका के पूर्व चेयरमैन हेमंत बगड़वाल के प्रति उनकी प्रतिक्रिया जानी तो उन्होंने कहा कि उन्हें न्याय पर भरोसा था इसलिए अदालत ने उन्हें बरी किया है उन पर झूठा आरोप लगाकर उनकी छवि को खराब करने का जबरदस्ती भरसक प्रयास किया लेकिन न्याय से दूध का दूध और पानी का पानी हो गया.

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.