कैड़ा के भीमताल पहुचने से पहले इन तीन नेताओ ने हाई कमान को भेज यह प्रस्ताव

Ad
ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी एसकेटी डॉटकॉम

भाजपा में शामिल हुए निर्दलीय विधायक राम सिंह खेड़ा के अपने विधानसभा क्षेत्र में पहुंचने से पहले ही भाजपा के संभावित प्रत्याशियों ने घेराबंदी शुरू कर दी है। भीमताल में कार्यकर्ताओं की एक बैठक में प्रस्ताव पारित करते हुए हाईकमान को भेजा कि भीमताल विधानसभा के लिए वर्ष 2022 के आम चुनाव मैं पार्टी किसी भी तरह से हवाई कैंडिडेट को स्वीकार नहीं करेगी। पार्टी किसी भी कार्यकर्ता को जो लंबे समय से पार्टी के लिए काम कर रहा हो को टिकट देना चाहिए।

भीमताल में आयोजित बैठक में भीमताल विधानसभा के ओखल कांडा धारी रामगढ़ और भीमताल विकास खंडों से आए सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने एक स्वर से कहा कि हाईकमान लंबे समय से पार्टी की सेवा कर रहे कार्यकर्ता को ही विधानसभा का प्रतिनिधित्व करने का मौका दें। गौरतलब है कि भीमताल विधानसभा से वर्तमान में विधायक राम सिंह खेड़ा के भाजपा ज्वाइन करने के बाद यह बात आम हो गई है कि भाजपा उन्हें ही टिकट देगी। संभव है वह इसी शर्त के साथ पार्टी में गए होंगे कि उनका टिकट पक्का रहेगा। भाजपा की ओर से तैयारी कर रहे पूर्व मंत्री गोविंद सिंह बिष्ट मंडी समिति हल्द्वानी के अध्यक्ष मनोज सा तथा धारी कि ब्लाक प्रमुख आशा रानी जिन्होंने अभी-अभी दावेदारी ठोकी है इस बैठक में मौजूद रहे वर्ष 2017 के आम चुनाव में पूर्व मंत्री गोविंद सिंह बिष्ट और गजराज सिंह बिष्ट मनोज साह प्रबल दावेदारों में थे लेकिन टिकट के रूप में बाजी गोविंद सिंह बिष्ट के हाथी लगी थी तब भगत सिंह कोश्यारी और शिव प्रकाश क्रमशः गजराज और गोविंद सिंह के लिए पैरवी कर रहे थे इसी उठापटक में गोविंद सिंह टिकट झटक ले गए थे जबकि वर्ष 2012 में मंत्री रहने के बावजूद गोविंद सिंह बिष्ट का टिकट कट गया था तब दान सिंह भंडारी जोगी रामगढ़ ब्लॉक के तत्कालीन ब्लॉक प्रमुख थे को भाजपा ने टिकट दिया था और उन्होंने जीत हासिल की थी।

वर्तमान की की राजनीतिक परिदृश्य के तहत जिस तरह से निर्दलीय विधायक जो अब भाजपा में शामिल हो चुके हैं दिल्ली में भाजपा के वरिष्ठ नेताओं के साथ मिल रहे हैं तथा वह स्थानीय नेताओं को यह दिखाना चाहते हैं कि उनका सीधा बड़े नेताओं से संपर्क है और टिकट उन्हीं के हाथ में होगा इस चीज को भाप स्थानीय नेताओं ने भी लामबंदी शुरू कर दी है। सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने हाईकमान को चेता दिया है कि अगर स्थानीय लोगों के बजाय किसी अन्य को टिकट दिया गया तो उसका परिणाम भाजपा के लिए सुखद नहीं रह पाएगा। वर्तमान में भाजपा की ओर से मनोज शाह और गोविंद सिंह बिष्ट प्रबल दावेदारों में है इसके अलावा अब धारी की ब्लाक प्रमुख आशा रानी ने भी दावा ठोका है

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *