महाराष्ट्र के बाद अब गोवा पर भाजपा का निशाना कांग्रेस मे तोड़फोड़ के संकेत, 9 विधायक भाजपा के संपर्क में

ख़बर शेयर करें

गोवा एसकेटी डॉट कॉम

भारतीय जनता पार्टी ने महाराष्ट्र में महाराष्ट्र गाड़ी गठबंधन में दरार डाल कर जिस तरह से शिवसेना के बागी एकनाथ शिंदे को मुख्यमंत्री बना कर वहां की सरकार को अपदस्थ कर दिया

के बाद भाजपा अपने मिशन में एक बार दोबारा जुड़ गई इस बार महाराष्ट्र के पड़ोसी राज्य गोवा का नंबर लगा है यहां के कांग्रेस के नौ विधायक भाजपा के संपर्क में बताए जा रहे हैं जल्द ही भाजपा में शामिल हो सकते हैं.

भाजपा के इस फैसले से कांग्रेस मैं छटपटाहट शुरू हो गई है उसने इस अभियान में दल के नेता प्रतिपक्ष माइकल लोगों को नेता प्रतिपक्ष के पद से हटा दिया है वहीं वह यह भी छुपाने की कोशिश कर रही है कि कांग्रेस में किसी तरह की फूट है. जानकारी के अनुसार गोवा के कांग्रेस प्रभारी दिनेश गुंडू राव ने कहा कि इसके लिए कांग्रेस के नेता प्रतिपक्ष माइकल लोबो और पूर्व मुख्यमंत्री दिगंबर कामत मुख्य भूमिका में है

सामंत को दोबारा भाजपा का मुख्यमंत्री बनाया गया

. जहां माइकल लोबो को नेता प्रतिपक्ष के पद से हटा दिया है वही काम मत के खिलाफ भी अनुशासनात्मक कार्रवाई अमल में लाई जा रही है हालांकि उन्होंने यह छुपाने की कोशिश की कि कांग्रेस में किसी तरह की छूट है.

वहीं कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष रहे ग्रीस चोडनकर ने कहा कि भाजपा 40 करोड़ की रकम से कॉन्ग्रेस तोड़फोड़ मचा सकती है इसके लिए कई लोग लगे हुए हैं इससे यह स्पष्ट हो जाता है कि अगर कांग्रेस में किसी भी तरह की छूट नहीं है तो नेता प्रतिपक्ष माइकल लोबो को उनके पद से क्यों हटाया गया है. यह वही माइकल लोबो हैं जो वर्ष 2019 में चुनाव के कुछ समय पूर्व भाजपा से कांग्रेस में शामिल हुए थे और कांग्रेस ने उन्हें इनाम स्वरूप नेता प्रतिपक्ष का पद दे दिया था

जिस तरह से भाजपा हर प्रदेश में कांग्रेस की सरकार को अपदस्थ कर रही है वहीं जहां उसकी सरकार पूर्ण बहुमत में नहीं है उसे मजबूती प्रदान करने के लिए वह कांग्रेस समेत किसी भी विपक्षी दल को तोड़ने से परहेज नहीं कर रही है भाजपा का एजेंडा पूरे देश के सभी राज्यों में भाजपा की सरकार लाना है. जिसके बल पर वह आगामी 2024 के मिशन को पूरा करना चाह रही है जिसके लिए वह योजनाबद्ध तरीके से काम कर रही है. पुष्ट सूत्रों के अनुसार 4 विधायकों ने भाजपा नेताओं से मुलाकात भी की है जिस के बाद कांग्रेस किसी भी तरीके से फूट को रोकना चाहती है. वह कितनी सफल हो पाएगी यह तो आने वाले समय में ही पता चल पाएगा

सूत्रों के अनुसार कांग्रेस की जो विधायक भाजपा में शामिल हो सकते हैं उनमें मुख्य रूप से पूर्व मुख्यमंत्री दिगंबर कामत नेता प्रतिपक्ष माइकल लोबो संकल्प अमोनकर, केदार नायक राजेश फलदेसाई भी शामिल हैं.

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.