रोडवेज के 4 डिपोओ के एकीकरण के फैसले पर मंत्री ने चलाई स्थगन की तलवार

ख़बर शेयर करें

देहरादून एसकेटी डॉट कॉम

उत्तराखंड परिवहन निगम के चार डिपो के एकीकरण के निगम के फैसले पर मंत्री चंदन राम दास ने स्थगन की तलवार चला दी है फिलहाल अग्रिम आदेशों तक यह कार्रवाई स्थगित रहेगी। परिवहन मंत्री चंदन राम दास के संज्ञान में लाए बगैर प्रबंध निदेशक ने पिछली सरकार के फैसले को लागू कर दिया था जिसका अखबारों के माध्यम से पता चलने पर मंत्री ने कड़ा एतराज जताते हुए कहां है कि पिछली सरकार के आदेश को दोबारा लागू करने से पहले नई सरकार के मंत्री को इस संबंध में जानकारी नहीं दी गई। वही इन क्षेत्रों के विधायकों ने डिपो के विलय पर ऐतराज जताते हुए विरोध का बिगुल फूंक दिया है।

रानीखेत के पूर्व विधायक करण मेहरा ने एक सभा के दौरान इस बिलय पर नाराजगी व्यक्त की है। इसके अलावा भाजपा के सी टीम विधायकों ने भी डिपो के बिलाई करण का विरोध किया है। पिछली सरकार ने अक्टूबर 2021 में यह फैसला लिया था। जिसका निगम ने बिना मंत्री के संज्ञान में डालें इस पर फैसला ले लिया।

विगत दिवस समाचार पत्रों में यह खबर प्रकाशित हुई थी कि परिवहन निगम के काशीपुर दीपों का रामनगर में श्रीनगर डिपो का ऋषिकेश में रुड़की डिपो का हरिद्वार में तथा रानी के डिपो का भवाली डिपो में विलय कर दिया गया है। फिलहाल परिवहन मंत्री चंदन रामदास में इस आदेश को स्थगित करने तथा इस पूरे प्रकरण को लेकर उनसे वार्ता करने का निर्देश दिया है। मंत्री के आदेश के बाद विरोध की आग फिलहाल ठंडी हो जाएगी

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.