नाफ़रमान अधिकारियो के पेच कसने क़ी तैयारी मे रेखा,अपर सचिव के खिलाफ बड़ी कार्य वाही के संकेत

ख़बर शेयर करें

देहरादून एसकेटी डॉट कॉम

खाद्य आपूर्ति विभाग के जिला स्त्रीय धिकारियों के तबादला एवं नैनीताल जिले के खाद्य आपूर्ति अधिकारी मनोज बर्मन को 10 दिन की छुट्टी पर भेजे जाने के मामले को लेकर अपर सचिव खाद्य खाद्य एवं विभागीय मंत्री आमने सामने आ गए हैं l

अपर सचिव की नाफरमानी को रेखा आर्य ने गंभीरता से लेते हुए कार्मिक विभाग से उनकी गोपनीय प्रविष्टि की फाइल खोलने तथा उनके सामने प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हैं l

विभागीय मंत्री रेखा आर्य ने कार्मिक विभाग से अपर सचिव खाद्य सचिन कुर्वे क़ी सीआर की फाइल तलब की है l

इस पूरे घटनाक्रम का मामला अब पीएम पुष्कर धामी के के दरबार में भी पहुंच गया है विभागीय मंत्री ने इस संबंध में उन्हें अवगत कराते हुए कहा कि अधिकारी मंत्रियों के निर्देशों की अवहेलना कर रहे हैं l

मंत्री रेखा आर्य ने सचिव कार्मिक को पत्र लिखकर खाद्य विभाग के सचिव एवं आयुक्त सचिन कुर्वे की गोपनीय प्रविष्टि से संबंधित मूल पत्रावली प्रस्तुत करने के निर्देश दिए है। मंत्री ने कहा कि 20 जून को खाद्य आयुक्त ने उनके अनुमोदन के बिना नैनीताल के जिला पूर्ति अधिकारी को अनिवार्य छुट्टी पर भेजा। इस पर उन्होंने इस आदेश को रद्द करने एवं इस पर उनका अनुमोदन कराने के लिए उनका जवाब तलब किया था।

खाद्य आयुक्त व विभागीय सचिव ने उनके निर्देश को मानने के बजाए उसी दिन छह जिला पूर्ति अधिकारियों के उनके अनुमोदन के बिना तबादले कर दिए। तबादले इतनी जल्दबाजी में किए गए हैं कि इससे संबंधित बैठक के कार्यवृत्त में 22 जून 2022 की तिथि के बजाय 22 जून 2019 की तिथि लिखी गई है। संबंधित अधिकारियों ने भी बिना देखे इस पर हस्ताक्षर कर दिए।

इन अधिकारियों के तबादलों का है मामला


खाद्य आयुक्त ने उनके कार्यालय में संबद्ध श्याम आर्य का पिथौरागढ़, मुकेश कुमार को हरिद्वार, देहरादून के जिला पूर्ति अधिकारी जसवंत सिंह कंडारी का चमोली, हरिद्वार के जिला पूर्ति अधिकारी केके अग्रवाल का रुद्रप्रयाग, नैनीताल के जिला पूर्ति अधिकारी मनोज वर्मन को बागेश्वर और रुद्रप्रयाग के जिला पूर्ति अधिकारी मनोज डोभाल का नैनीताल तबादला कियाl

रेखा आर्य ने कहा कि इस मामले में सचिव ने उनके निर्देश की अनदेखी की है। जिससे मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को अवगत करा दिया गया है। मुख्यमंत्री दिल्ली में हैं। उनके सामने पूरी स्थिति रखी गई है।


खाद्य मंत्री रेखा आर्य के निर्देश के बाद भी अब तक छह अधिकारियो के ताबदले निरस्त नहीं हुए हैं l
खाद्य सचिव एवं आयुक्त सचिन कुर्वे के मुताबिक सभी अधिकारियों के तबादले तबादला एक्ट के तहत किए गए हैं। विभागीय मंत्री की ओर से इस मामले में उनसे जो जानकारी मांगी गई थी। बृहस्पतिवार को उससे विभागीय मंत्री को लिखित में अवगत करा दिया गया
नैनीताल के जिला पूर्ति अधिकारी मनोज वर्मन को 10 दिन की अनिवार्य छुट्टी पर भेजने से विभागीय मंत्री नाराज हैं। इसके बाद अधिकारियों के तबादलों से पूरे प्रकरण ने तूल पकड़ा हुुआ है। विभागीय सूत्रों के मुताबिक नैनीताल जिले में कई दुकानों में बिना बायोमीट्रिक के लोगों को राशन दिया जा रहा था। हाल ही में हुई बैठक में इस प्रकरण का खुलासा हुआ था। बताया गया कि 26 राशन की दुकानों में बायोमेट्रिक प्रतिशत शून्य था। जबकि 163 दुकानों में बायोमीट्रिक प्रतिशत मात्र 15 से 17 फीसदी था। इस पर विभागीय सचिव ने संबंधित जिला पूर्ति अधिकारी को दस दिन की अनिवार्य छुट्टी पर भेजा था।

Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.