आखिर क्यों हुई नवजोत सिद्धू को एक साल की कैद

ख़बर शेयर करें

कांग्रेस नेता और पूर्व क्रिकेट खिलाड़ी नवजोत सिंह सिद्दू को सुप्रीम कोर्ट ने एक साल की कैद की सजा सुनाई है। ये मामला 34 साल पुराना है और सुप्रीम कोर्ट ने पुनर्विचार याचिका पर सुनवाई करते हुए ये फैसला सुनाया है।


दरअसल पटियाला में 27 दिसंबर 1988 की दोपहर गुरनाम सिंह (65) को सिद्धू ने मामूली विवाद में सिर पर मुक्का मार दिया था। रोडरोज के मामले में चला ये मुक्का गुरनाम सिंह के लिए जानलेवा साबित हुआ और इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई।
इस मामलों में डाक्टरों का एक बोर्ड गठित हुआ और मौत की वजह सिर में चोट, ब्रेनहेमरेज और कार्डियक कंडीशंस बताया गया।

बाद में ये मामला निचली अदालत में गया जहां सिद्धू पर गैरइरादतन हत्या और रोडरोज का मुकदमा चला। इस मामले में सिद्धू को तीन साल की सजा हो गई।


सिद्धू ने सजा के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अपील दायर की। सुप्रीम कोर्ट ने गैरइरादतन हत्या के मामले से सिद्धू को बरी कर दिया जबकि रोडरोज में एक हजार रुपए का जुर्माना लगाया।


हालांकि गुरनाम सिंह के परिवार ने फिर एक रिव्यू पिटिशन दाखिल की। इसपर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले को बदल दिया है और सिद्धू को एक साल की सजा सुना दी है।

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.