आखिर क्यों हरदा ने कांग्रेस से निष्कासित करने की बात कही,पढ़े खबर

ख़बर शेयर करें

हार के बाद लगातार हरीश रावत पर निशाना साधा जा रहा है ऐसे में हरीश रावत अंदर ही अंदर से नाराज भी हैं लेकिन फिर भी खुद को संयमित रखते हुए लगातार उनके बयान सामने आ रहे हैं पहले जहां प्रीतम सिंह ने हरीश रावत पर निशाना साधा वहीं रंजीत रावत ने हरीश रावत पर पैसे लेने लेकर टिकट बेचने का गंभीर आरोप लगाया जिसके बाद हरीश रावत ने बड़ी मांग कर डाली है।

कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष व सल्ट विधानसभा सीट से प्रत्याशी रहे रणजीत रावत के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत पर विधानसभा चुनाव में टिकट बेचने के आरोपों के बाद आज हरीश रावत ने सोशल साइट्स पर अपने दिल का दर्द बयां किया है। कहा है कि इन आरोपों के बाद कांग्रेस पार्टी जांच कराए और मुझे निष्कासित करे।


हरीश रावत ने लिखा है-पद और पार्टी टिकट बेचने का आरोप अत्यधिक गंभीर है और यदि वह आरोप एक ऐसे व्यक्ति पर लगाया जा रहा हो, जो मुख्यमंत्री रहा है, जो पार्टी का प्रदेश अध्यक्ष रहा है, जो पार्टी का महासचिव रहा है और कांग्रेस कार्यसमिति का सदस्य है और आरोप लगाने वाला व्यक्ति भी गंभीर पद पर विद्यमान व्यक्ति हो और उस व्यक्ति द्वारा लगाये गये आरोप को एक अत्यधिक महत्वपूर्ण पद पर विद्यमान व्यक्ति द्वारा और उसके सपोटर्स द्वारा प्रचारित-प्रसारित करवाया जा रहा हो तो यह आरोप और भी गंभीर हो जाता है। यह आरोप मुझ पर लगाया गया है। मैं भगवान से प्रार्थना करता हूँ कि कांग्रेस पार्टी मेरे पर लगे इस आरोप के आलोक में मुझे पार्टी से निष्कासित करे।


होली बुराईयों के समन का एक उचित उत्सव है, होलिका दहन और #HarishRawat रूपी बुराई का भी इस होलिका में कांग्रेस को दहन कर देना चाहिए‌। परिवर्तन प्रकृति का नियम है, परिवर्तन की अपेक्षा करूँगा।

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.