उत्तराखंड-यहां प्रदूषण जांच प्रमाण पत्र के फर्जीवाड़े पर आरटीओ ने जांच केंद्रों पर की कार्रवाई

ख़बर शेयर करें

उत्तराखंड में चल रहे प्रदूषण जांच प्रमाणपत्र फर्जीवाड़े में कार्रवाई शुरू हो गई है। प्रदेश के सभी आरटीओ को जांच केंद्रों की जांच शुरू करने के आदेश दिए गए हैं। साथ ही अब तक फर्जी तरीके से प्रमाणपत्र बना रहे नौ सेंटरों के खिलाफ कार्रवाई के आदेश दे दिए गए हैं।


संयुक्त परिवहन आयुक्त सनत कुमार सिंह ने बताया देहरादून में मालाजी पर्यावरण समिति, चौहान सोल्यूशन चेक प्वाइंट, शिवालिक पोल्यूशन सेंटर, मेहर सिंह पोल्यूशन टेस्टिंग सेंटर, बालाजी पर्यावरण समिति के खिलाफ कार्रवाई के आदेश दिए गए है। इसके साथ ही जांच केंद्र का लाइसेंस होने के बावजूद मौके पर न मिले शाही ऑटोमोबाइल और उमेश प्रदूषण जांच केंद्र के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी। इसी प्रकार हल्दवानी आरटीओ रीजन में भी दो केंद्रों के खिलाफ कार्रवाई के आदेश दिए गए हैं। सभी आरटीओ को कड़े निर्देश दिए गए हैं कि वो प्रदूषणजांच केंद्रों की नियमित रूप से जांच करेंगे। राज्य में प्रदूषण जांच केंद्रों की संख्या 300 से ज्यादा है।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.