उत्तराखंड -यहां छात्र ने मरने से पहले निजी सचिव एवं अन्य के खिलाफ लिखा सुसाइड नोट ,मुकदमा दर्ज

ख़बर शेयर करें

अल्मोड़ा जिले में छात्र के द्वारा खुदकुशी करने का घटनाक्रम सामने आया है जो कि मामला काफी दिनों से सुर्ख़ियो में हैं और अब इस मामले में एक नया मोड़ सामने आ रहा है जानकारी के अनुसार इस मामले में पुलिस ने सांसद अजय टम्टा के निजि सचिव और अन्य के खिलाफ सुसाइड नोट लिखा था। तहरीर मिलने के बाद पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। देवली गांव में बीते दिनों सोबन सिंह जीना परिसर के छात्र की मौत के मामले में नया मोड़ आ गया है।इसमें अल्मोड़ा पिथौरागढ़ संसदीय सीट से सांसद अजय टम्टा के निजी सचिव समेत 4 के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। तहरीर में सांसद के निजी सचिव, उसकी पत्नी समेत अन्य पर कई आरोप लगाए गए हैं। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

देवली गांव (हवालबाग ब्लॉक) के घुराड़ी तोक निवासी सोबन सिंह जीना परिसर का छात्र तरुण दुर्गापाल (23) पुत्र हेम चंद्र दुर्गापाल ने बीती शक्रवार की देर रात सुसाइड कर लिया था। बताया जाता है आत्महत्या करने से पहले छात्र ने सुसाइड नोट अपनी बहन को भेजा। बताया जाता है कि इसमें मृतक ने सांसद अजय टम्टा के निजी सचिव पंकज जोशी पुत्र उर्वादत्त सहित अन्य पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया था।इस मामले में बीते रविवार को मृतक की बहन स्नेहा दुर्गापाल ने घुराड़ी निवासी पंकज जोशी पुत्र उर्वादत्त जोशी, उसकी पत्नी कविता जोशी, कमलेश दुर्गापाल, उमा दुबे के खिलाफ तहरीर दी। पुलिस ने तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज किया है। कोतवाल अरुण कुमार ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। इधर बताया जाता है कि मृतका के सुसाइड नोट में पंकज जोशी को सांसद का निजी सचिव बताया है। इसमें प्रताड़ित करने का आरोप भी लगाया गया है।

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.