कुमाऊं में यहां फूटा कोरोना बम,मचा हड़कंप

ख़बर शेयर करें

उत्तराखंड में एक बार फिर से कोरोनावायरस के मामले दिन पर दिन बढ़ते जा रहे हैं जिसकी वजह से आम जनता में एक बार फिर से डर का माहौल बनना शुरू हो चुका है अब आप सोचेंगे हम इस प्रकार की बात क्यों कर रहे हैं तो जानकारी के अनुसार बता दे कि इस समय की बड़ी खबर राज्य के चंपावत जिले से सामने आ रही है क्योंकि यहां पर इस समय कहा जा सकता है कि कोरोना बम फूट चुका है क्योंकि चंपावत जिले के बनबसा क्षेत्र में एक साथ 25 लोग एक ही दिन में संक्रमित पाए गए बता दें कि भारत-नेपाल सीमा पर एक बार फिर से कोरोना बम फूटा है। यहां नेपाल से भारत आ रहे 25 लोग एक ही दिन में संक्रमित पाए गए हैं। खास बात ये है कि इनमें भारत-नेपाल मैत्री बस सेवा में सवार 14 यात्री भी संक्रमित हैं। एक साथ कोरोना के इतने मामले सामने आने पर प्रशासन ने मैत्री बसों को नेपाल वापस लौटा दिया है।


ताज़ा खबरो के लिये हमारे whatsapp ग्रुप सेे जुड़े

कोरोना के नए वेरियंट की आहट के साथ ही भारत-नेपाल सीमा खुलने से दोनों देशों में कोरोना का खतरा संक्रमण फैलने का खतरा ओर भी बढ़ गया है। करीब एक माह पहले ही दोनों देशों के बीच अंतरराष्ट्रीय सीमा पर सामान्य आवाजाही शुरू हुई थी। लेकिन, देश-विदेश में कोरोना मामलों में लगातार वृद्धि हो रही थी साथ ही कोरोना के नये वेरिएंट का भी खतरा बढ़ गया था।इसी को देखते हुए चम्पावत जिले में कोरोना सैंपलिंग बढ़ा दी गई थी और बनबसा में भारत-नेपाल सीमा पर कोरोना जांच के लिए टीम तैनात कर दी गई। जिसके बाद एक साथ मिले कोरोना संक्रमितो की संख्या ने प्रशासन की भी नीद उड़ा दी है।

ताजा खबरों के लिए हमारे WHATSAPP ग्रुप से जुड़े

टनकपुर उपजिलाधिकारी हिमांशु कफलतिया ने मामले की जानकारी देते हुई बताया की स्वास्थ्य विभाग की टीम ने अंतरराष्ट्रीय सीमा पर आवागमन करने वालों की एंटीजन और आरटीपीसीआर सैंपलिंग और भी बड़ा दी है। साथ ही जिले में बाहर से आने जाने वाले यात्रियों पर भी प्रशासन पूरी तरह से इस पर नजर बनाए हुए है।

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.