झकझोर देगा 8वीं के छात्र का सुसाइड नोट

ख़बर शेयर करें

(प्रतीकात्मक फोटो)

मध्य प्रदेश के सीधी में 14 साल के छात्र ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली. घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा और मामले की जांच शुरू की. मौके से पुलिस को एक सुसाइड नोट भी मिला है, जिसमें उसने लिखा है कि ‘पापा…कभी गलती हो जाए तो माफ नहीं किया जा सकता क्या। टीचर ने मुझे सबके सामने गंदी-गंदी गालियां दीं’. इस घटना के बाद से गांव में सन्नाटा पसरा हुआ है. 

यह घटना पड़खुरी 588 गांव की है. जहां नवोदय स्कूल की 8वीं कक्षा में पढ़ने वाले छात्र ने 2 जनवरी को घर में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली. सुसाइड नोट में छात्र ने लिखा कि पिता जी टीचर ने मुझे गंदी- गंदी गालियां दी और जहर या फांसी लगाकर मरने के लिए भी कहा.  इसलिए मैं अपनी जान दे रहा हूं, छात्रा ने अपने सुसाइड नोट में यह भी लिखा कि पिताजी  यह शिक्षक कई छात्रों की जिंदगी बरबाद कर चुका है. इसे जेल जरूर भिजवाना. फिलहाल आरोपी टीचर को गिरफ्तार नहीं किया गया है.

छात्र ने फांसी लगाकर की खुदकुशी
छात्र ने फांसी लगाकर की खुदकुशी

इस मामले पर स्कूल प्रिंसिपल डॉ. एसपी दुबे ने बताया कि सुसाइड नोट में जिस टीचर का नाम है. वह टीचर बच्चे को बहुत लगाव रखते थे. उन्होंने बच्चे को हाउस कैप्टन भी बनाया हुआ था. सुसाइड नोट में टीचर के अलावा तीन बच्चों का भी नाम लिखा है और एक लाइन में पैंसों के लेन-देन का भी जिक्र है. टीचर अजीत पांडे सोशल साइंस पढ़ाते हैं. 

आरोपी टीचर अजीत पांडे का कहना है कि बच्चे को 19 दिसंबर को चोरी के आरोप में पकड़ा था.  उस पर कुछ बच्चों ने चोरी का आरोप लगाया था कि अमित ने ड्राइंग बॉक्स, कॉपी सहित कुछ रुपये  चुराए थे. जिसकी शिकायत पर जांच की गई तो पता चला कि रुपये व बाकी सामान उसी ने लिए थे.  इसके बाद हमने उसके माता-पित को बताया और समझाकर 20 दिसंबर को घर भेज दिया था. वहीं इस मामले पर एसडीओपी चुरहट विवेक कुमार गौतम ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है उसी के हिसाब से आगे की कार्रवाई की जाएगी.

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.