बनभूलपूरा पत्थरबाजी -ऐसी होंगी कार्यवाही याद करेंगे दंगाई, लगेगा गैंगस्टर एक्ट

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी एसकेटी डॉट कॉम

बनभूलपुरा के दंगाइयों पर पुलिस ने ऐसी कारवाही करने की ठानी है कि यह भविष्य में दंगा करना तो दूर किसी को गाली देना भी भूल जाएंगेl बनभूलपुरा थाना इंचार्ज नीरज भाकुनी ने कहा कि पुलिस के समझाने के बावजूद जिस तरह से पत्थरबाजों ने एक दूसरे के ऊपर हमले किए से निश्चित रूप से उन पर बड़ी कार्यवाही की जाएगी गैंगस्टर एक्ट लगाने के लिए अधिकारियों से अनुमति ली जाएगा l

बनभूलपुरा थाना क्षेत्र के गांधीनगर में दो पक्षों के बीच हुई लडाई झगडे व पथराव के मामले में पुलिस ने तीन युवकों को गिरफ्तार किया है। तय किया गया है कि इस घटना में शामिल अभियुक्तों के खिलाफ गैंगस्टर के तहत कार्रवाई होगी।


पुलिस के मुताबिक गाँधीनगर में दो पक्षों के बीच विवाद होने की सूचना के बाद थानाध्यक्ष बनभूलपुरा नीरज भाकुनी थाना पुलिस बल के साथ गांधीनगर पहुंचे। जहां दो गुटो के मध्य लडाई- झगडा एवं पथराव हो रहा था। मौके पर स्थानीय पुलिस द्वारा दोनों पक्षों को समझाने का प्रयास किया गया। लडाई- झगडा व पथराव न कर अपने घरों में जाने की अपील की गयी परन्तु दोनों गुटों के व्यक्ति नही माने। दोनों पक्ष पुलिस बल के सामने ही एक-दूसरे पर आरोप- प्रत्यारोप लगाकर पत्थरबाजी कर रहे थे।

पर इस घटना को रोकने के लिए व अपराध कारित करने से रोकने के लिए पुलिस ने दोनों पक्षों के प्रशान्त कुमार पुत्र स्व मदन लाल उम्र-25 वर्ष निवासी गाँधीनगर वार्ड नंबर-27, थाना बनभूलपुरा, अनुराग कुमार पुत्र हरीश लाल उम्र-21 वर्ष निवासी गाँधीनगर वार्ड नंबर-27, रवि कुमार पुत्र राजेश कुमार उम्र-20 निवासी गाँधीनगर वार्ड नंबर-27, थाना बनभूलपुरा को धारा-147/149/160/336/337/427 भादवि0 के तहत गिरफ्तार किया गया।

अन्य नामजद व दोनो पक्षों के लगभग 15-20 अज्ञात लोगों की गिरफ्तारी हेतु पुलिस टीम द्वारा दबिशे दी जा रही है। पथराव की घटना में दो लोगों द्वारा स्वंय की गाडियों में तोडफोड/क्षतिग्रस्त के सम्बन्ध में तहरीर दी गयी।

तहरीर के आधार पर थाना वनभूलपुरा पुलिस ने प्रशान्त कुमार आदि के नाम पर दो और मुकदमें दर्ज किए हैं। थानाध्यक्ष नीरज भाकुनी ने बताया कि उपद्रवियों के आपराधिक इतिहास खंगालकर गुण्डा नियन्त्रण अधिनियम व गैंगस्टर एक्ट में कार्यवाही की जायेगी।

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.