दूसरे युवक से बात करने के विवाद पर कोटा में हुई थी बिलासपुर की छात्रा की हत्या

ख़बर शेयर करें

दूसरे युवक से बात करने के विवाद पर कोटा में हुई थी बिलासपुर की छात्रा की हत्या

बिलासपुर। शहर के यदुनंदन नगर में रहने वाले छात्रा कि राजस्थान स्थित कोटा के जंगल में हत्या कर दी गई। शव मिलने के बाद पुलिस ने गुजरात के गांधीनगर से एक युवक को गिरफ्तार किया है। प्राथमिक पूछताछ में पता चला है कि दोनों के बीच करीब डेढ़ साल से इंटरनेट के माध्यम से बातचीत होती थी। इस दौरान दोनों के बीच किसी अन्य युवक से बात करने को लेकर विवाद हुआ था। इसके बाद गुजरात से आकर युवक ने छात्रा की हत्या कर दी। राजस्थान पुलिस युवक से पूछताछ कर इसकी तस्दीक कर रही है।

शहर के यदुनंदन नगर में रहने वाली छात्रा आलिया खान नीट की तैयारी के लिए राजस्थान के कोटा गई थी। वहां वह निजी हास्टल में रहकर कोचिंग कर रही थी। छह जून को हॉस्टल के संचालक ने छात्रा के गुमशुदगी की शिकायत की। इसकी जांच के बाद पुलिस ने बोराबास के जंगल से छात्रा का शव बरामद कर लिया। जांच के बाद पुलिस ने गुजरात के गांधीनगर से किशन ठाकोर को गिरफ्तार किया है। पूछताछ में पता चला कि छात्रा और किशन के बीच इंटरनेट मीडिया के माध्यम से पहचान हुई थी।

इसके बाद दोनों इंस्टाग्राम पर बातें करते थे। बातचीत के दौरान किशन को शक हुआ कि छात्रा किसी और युवक से भी बात करती है। इसी बात को लेकर दोनों के बीच विवाद होने लगा। 4 जून को युवक गुजरात से राजस्थान आया था। यहां वह छात्रा से मिलने की कोशिश कर रहा था। छह जून को उसने किराए पर स्कूटी लेकर छात्रा को मिलने के लिए बुलाया। इसके बाद दोनों कोटा के जवाहर सागर बांध की ओर चले गए। जवाहर सागर बांध के पास बोराबास के जंगल में युवक ने छात्रा की हत्या कर दी। इसके बाद वह गुजरात भाग गया। मामले में पुलिस युवक से पूछताछ कर रही है।

इंटरनेट से दोस्ती नाबालिगों के लिए खतरा

बीते 2 साल में जिले में कई मामले सामने आए हैं जिसमें इंटरनेट से दोस्ती कर किशोरियों का शोषण किया गया है। शिकायतों के बाद पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार किया है। वही इसमें युवतियां और महिलाएं भी शिकार हुई हैं। अलग-अलग मामलों में पुलिस ने कई आरोपित को गिरफ्तार भी किया है। ऐसे में स्वजन को किशोरियों और युवतियों को इंटरनेट मीडिया के दुष्प्रभाव और इससे बचने के तरीकों के बारे में समझाना चाहिए।

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.