यहाँ अंगीठी बनी 2 सगे भाईयो की मौत का कारण

ख़बर शेयर करें

भिलंगना एसकेटी डॉटकॉम

बढ़ती हुई सर्दियां जहां एक और हार्ड कब आ रही है वहीं इसके बचाव का कारण आग और जलती हुई अंगूठी लोगों की मौत का कारण भी बनती जा रही है फुल 100 पिछले कई दिनों से ऐसी कई मामले आ गए हैं जिनमें अंगूठी की वजह से कई लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है। थोड़ी सी लापरवाही की वजह से ठंड से बचाने वाली होंगी ठीक जान की दुश्मन बन जाती है।

ऐसा ही एक मामला टिहरी जिले के भिलंगना ब्लॉक के हिंदाव पट्टी के चटोली गांव से आ रहा है जहां के निवासी मकान सिंह नेगी के 2 पुत्र ठंड ज्यादा होने के कारण एक कमरे में सो रहे थे सोने से पहले जिस अंगीठी में वह आग सेक रहे थे उसको वह वहां से हटा ना भूल गए और उन्होंने दरवाजे बंद कर दिए अंगूठी से बनी गैस की वजह से दोनों युवा भाइयों की दम घुटने से मौत हो गई।

जानकारी के मुताबिक बीते बुधवार की रात को चटोली गांव के मकान सिंह नेगी के दोनों बेटे अनूप 16 वर्षीय और आशीष 18 वर्षीय कमरे में सोए थे और उन्होंने ठंड से बचने के लिए कमरे में अंगीठी जलाकर रखी थी दरवाजा बंद कर दोनों सो गए।।

गुरुवार की सुबह जब पिता दोनों बेटों को कमरे में उठाने के लिए गए तो अंदर से कोई जवाब नहीं आया दरवाजा तोड़कर जब परिजन अंदर पहुंचे तो परिजनों के पैरों तले जमीन खिसक गई। दोनों बेटे बेसुध पड़े थे, इस दौरान इस घटना की जानकारी गांव वालों को भी मिली जब तक गांव वाले पहुंचे तब तक दोनों बेटों की मौत हो चुकी थी।

जवान दो बेटों की मौत से परिवार में कोहराम मच गया और गांव में मातम छाया रहा माता-पिता की इन दोनों बच्चों के अलावा कोई संतान नहीं है अचानक हुए इस हादसे के बाद परिजनों में कोहराम मच गया अचानक हुई इस घटना से क्षेत्र में मातम पसर गया

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.