यहाँ पुलिस का जवान ही हो गया ठगी का शिकार

ख़बर शेयर करें

देहरादून एसकेटी डॉट कॉम

यूं तो पुलिस हमेशा दूसरों को नसीहत देती है कि वह बिना जांचे परखे कोई भी सौदा ना करें लेकिन समय का ऐसा दौर चलता है जब पुलिस वाले ही खुद ठगी के शिकार हो जाते हैं ऐसा ही एक मामला देहरादून में आया है जब एक पुलिस का सिपाही प्रॉपर्टी डीलरों के झांसे में फंसकर 20 लाख से अधिक रकम गवा चुका है।

शांति विहार कारगी निवासी हाजी शमशीर खान ने बताया कि वर्ष 2020 में उसकी मुलाकात मूल रूप से उत्तर प्रदेश शामली हाल निवासी ब्राह्म्णवाला प्रधान वाली गली देहरादून, शफीक व कुर्बान से हुआ जहां दोनों ने बताया कि वह प्रॉपर्टी डीलिंग का काम करते हैं ।

सस्ते दाम पर जमीन उपलब्ध करा देंगे जहां कॉन्स्टेबल ने उनसे जमीन लेने की बात कही जिस पर आरोपियों ने एक जमीन को अपनी साली का जमीन बताते हुए उस पर बयाना ले लिया।
आरोपितों ने कहा कि उनके पास सुद्धोवाला में एक प्लाट है प्लाट उनकी साली के नाम पर है जो दिल्ली में रहती है। आरोपितों ने जमीन की कीमत 30 लाख रुपये बताई इसमें रजिस्ट्री भी शामिल किया पुलिसकर्मी ने 30 सितंबर को प्लाट का विक्रय अनुबंध जहां बयाने के तौर पर ₹500000 दे दिए और बाकी पैसे 11 महीने में देने की बात कही गई।

इस बीच आरोपितों ने अलग-अलग किस्तों में 20 लाख रुपये ले लिए, लेकिन जब रजिस्ट्री करवाने का समय आया तो वह टाल-मटोल करने लगे।


शक होने पर उन्होंने जमीन के बारे में पता करवाया तो वह किसी और के नाम पर दर्ज पाई गई कांस्टेबल ने आरोपितों से जब रकम वापस मांगी गई तो उन्होंने ब्याज सहित 22 लाख रुपये के चेक दिए जब बैंक में चेक लगाया तो चेक बाउंस हो गया। पुलिस द्वारा पूरे मामले में प्रेम नगर थाने में आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है पूरे मामले में पुलिस आगे की कार्रवाई कर रही है।

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.