ऑनलाइन प्यार पड़ा भारी,इंस्टा पर लड़की बनकर युवक को मिलने बुलाया, फिर कर दी हत्या,

ख़बर शेयर करें

बिलासपुर। छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जिले में 17 वर्षीय एक नाबालिग लड़के ने अपने 5 दोस्तों के साथ मिलकर एक छात्र पर चाकू से हमला कर मौत के घाट उतार दिया है। घटना को अंजाम देने के बाद सभी आरोपी मौके से फरार हो गए हैं। बताया जा रहा है कि नाबालिग आरोपी कुछ दिन पहले ही हत्या के एक अन्य मामले में बाल सुधार गृह से छूटा था और कुछ दिन पहले से ही हमले की योजना बना ली थी। इसके लिए उसने इंस्टाग्राम में लड़की के नाम से फर्जी आईडी बनाकर छात्र से दोस्ती की। फिर रविवार को उसे मिलने के लिए बुलाकर हत्या कर दी। वहीं मृतक का नाम सतीश तिवारी (22) बताया जा रहा है, जो कॉलेज छात्र था। मामला सिविल लाइन थाना क्षेत्र का ळें

इंस्टाग्राम पर फर्जी आईडी से छात्र से दोस्ती की

पुलिस ने बताया कि कोतवाली थाना क्षेत्र के बिलासा चौक 22 वर्षीय निवासी सतीश तिवारी का जूना बिलासपुर हटरी चौक निवासी नाबालिग से विवाद चल रहा था। नाबालिग के पिता पर हमला करने के आरोप में वह जेल में बंद था। एक माह पहले ही वह जमानत पर छूटा था। पुलिस ने बताया कि नाबालिग पिता पर हुए हमले का बदला लेने के लिए नाबालिग लड़के ने सतीश को अपने चंगुल में लेने के लिए इंस्टाग्राम में फर्जी आईडी बनाया और लड़की बन सतीश से दोस्ती की। सतीश उसे लड़की समझकर चैटिंग में बातचीत करने लगा। रविवार को कथित लड़की के इंस्टाग्राम में सतीश चैटिंग कर रहा था। बातचीत के दौरान ही योजनाबद्ध तरीके से उसे राजीव गांधी चौक स्थित एसबीआर कॉलेज के पास मिलने के लिए बुलाया। सतीश अपने नाबालिग दोस्त को लेकर मिलने चला गया।

मिलने के बहाने बुलाया, फिर चाकू से हमला कर दिय

सतीश कल शाम अपने नाबालिग दोस्त के साथ एसबीआर कॉलेज के पास खड़ा था। सतीश अपने दोस्त के साथ बातचीत कर रहा था, तभी वहां 17 साल का लड़का अपने पांच साथियों के साथ पहुंचा और सतीश पर चाकू से हमला कर दिया। चाकू उसके पेट में लगा। किसी तरह वह राजीव गांधी चौक स्थित प्राइवेट हॉस्पिटल पहुंचा, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

पिता पर हुए हमले का बदला लेने की हत्या

घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। उन्होंने सतीश के नाबालिग दोस्त से पूछताछ कर हमलावरों की जानकारी ली। टीआई ने बताया कि मुख्य हमलावर आरोपी की पहचान हो गई है, वह नाबालिग है। अन्य आरोपियों की भी पुलिस पहचान कर उनकी तलाश में जुटी हुई है। प्रारंभिक जांच और पूछताछ में पुरानी रंजिश के चलते हत्या की यह वारदात हुई है। दरअसल सतीश ने छह माह पहले नाबालिग के पिता पर जानलेवा हमला किया था, जिस पर पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था।

पहले भी कर चुका मर्डर

नाबालिग आरोपी ने अपने साथियों के साथ मिलकर 30 मार्च 2021 को जूना बिलासपुर के हटरी चौक निवासी कूलर का खस बेचने वाले इकबाल नाम के एक युवक की हत्या कर दी थी। इकबाल के भाई शेख शिबू से उसका विवाद था। वह शेख शिबू के लक्ष्मी टॉकीज के पास स्थित दुकान गया था। उसके नहीं मिलने पर उसने इकबाल से विवाद कर डंडा और रॉड से हमला कर दिया था। इससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया और उसकी रायपुर के अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई। इस केस में पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर बाल सुधार गृह भेजा था।

शव का पोस्टमार्टम आज

पुलिस ने सतीश तिवारी से मिले चाकू को जब्त कर लिया है। प्राइवेट हॉस्पिटल में परिजनों की मौजूदगी में उसके शव का पंचनामा कराया गया। इसके बाद पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया, जहां सोमवार को पोस्टमार्टम होगा।

Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.