प्रदेश के मुखिया समेत इन मंत्रियों की संपत्ति है करोड़ों में, कोई है पोस्ट ग्रेजुएट, ग्रेजुएट तो कोई सिर्फ दसवीं पास

ख़बर शेयर करें

राज्य में कल पुष्कर सिंह धामी के मुख्यमंत्री शपथ ग्रहण समारोह के साथ ही आठ नए मंत्रियों ने मंत्रिमंडल की शपथ ली इस मंत्रिमंडल में अनुभव के साथ युवा वर्ग ही नजर आया जहां पर अपने अनुभव के धनी मंत्री नजर आए वहीं युवा जोश भी इस नए मंत्रिमंडल में नजर आया लेकिन आज हम इस मंत्रिमंडल में कुछ ऐसे नेताओं के बारे में बात करने जा रहे हैं जिनकी संपत्ति करोड़ो मे है। बता दे कि नरेंद्रनगर के विधायक व मंत्री सुबोध उनियाल पर एक करोड़ से अधिक की देनदारी है। एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रेफॉर्म्स की ओर से जारी रिपोर्ट में मुख्यमंत्री समेत मंत्रियों की संपत्ति का ब्यौरा दिया गया है।


एडीआर के राज्य समन्वयक मनोज ध्यानी ने बताया कि उत्तराखंड के मंत्रियों से संबंधित आंकड़े जारी कर दिए गए हैं। रिपोर्ट के अनुसार मुख्यमंत्री समेत सभी मंत्री करोड़पति हैं। मंत्रियों की औसतन संपत्ति 16 करोड़ है। सबसे अधिक सम्पत्ति घोषित करने वाले मंत्री पौड़ी गढ़वाल के चोबट्टाखाल से विधायक सतपाल महाराज की 87.34 करोड़ है, जबकि सबसे कम सम्पत्ति मंत्री बागेश्वर से विधायक चंदन राम दास की 1.24 करोड़ है।

रिपोर्ट के अनुसार आधा दर्जन मंत्रियों ने देनदारी घोषित की है, जिसमें से निर्वाचन क्षेत्र नरेंद्र नगर से सुबोध उनियाल पर 1.03 करोड़ सबसे अधिक देनदारी घोषित है। दो मंत्री 10वीं व 12वीं पास एवं अन्य सात मंत्रियों ने स्नातक अथवा उससे अधिक शैक्षिक योग्यता हासिल की है। सबसे कम शैक्षिक योग्यता धारक मंत्री मसूरी के विधायक गणेश जोशी 10वीं पास हैं, सबसे अधिक शैक्षिक योग्यता धारक मंत्री डॉ धन सिंह रावत डॉक्टर ऑफ़ फिलसॉफी हैं। रिपोर्ट के अनुसार मुख्यमंत्री धामी की संपत्ति 3.34 करोड़, सोमेश्वर की विधायक व मंत्री रेखा आर्य की घोषित संपत्ति 25.20 करोड़, गणेश जोशी की 9.74 करोड़, सितारगंज विधायक व मंत्री सौरभ बहुगुणा की 7.85 करोड़, ऋषिकेश विधायक व मंन्त्री प्रेमचंद्र अग्रवाल की 5.03 करोड़, डॉ धन सिंह की संपत्ति 2.67 करोड़, सुबोध उनियाल की 1.61 करोड़ है। मंत्रिमंडल के सदस्यों में मुख्यमंत्री धामी, सौरभ, रेखा, सुबोध पोस्ट ग्रेजुएट जबकि चंदन रामदास ग्रेजुएट हैं।

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.