प्रेम के आगे झुकी सरकार-यूक्रेन में फंसे ऋषभ की मेहनत लाई रंग,कुत्ते संग लौटने की मिली अनुमति

ख़बर शेयर करें

रूस-यूक्रेन के बीच जंग जारी है। रुस ने बीती रात यूक्रेन पर दो धमाके किए जिससे लोग और अधिक सहम गए। भारतीय को वापस लाने की कवायद तेज हो गई है। उत्तराखंड के 42 नागरिकों को सुरक्षित लाया जा चुका है और जो भी यूक्रेन में फंसे हैं उनको भी वापस लाने की कोशिश जारी है.


लेकिन एक छात्र ऐसा है जो अपने कुत्ते के बिना घर नहीं आना चाहता। उसने कुत्ते को साथ लाने के लिए जी जान लगा दी और उसकी मेहनत आखिरकार रंग लाई। बता दें कि अपने कुत्ते को वापस भारत लाने की जिद्द पर अड़े देहरादून निवासी ऋषभ कौशिक को डागी के साथ भारत लौटने की अनुमति मिल गई है। जल्द ही ऋषभ हंगरी से मुंबई के लिए उड़ान भरेंगे वो भी अपने कुत्ते के साथ।


आपको बता दें कि देहरादून के किशनपुर निवासी ऋषभ कौशिक खारकीव नेशनल यूनिवर्सिटी आफ रेडियो इलेक्ट्रानिक्स से साफ्टवेयर इंजीनियरिंग में तृतीय साल की पढ़ाई कर रहे हैं। ऋषभ इस वक्त यूक्रेन के कीव में फंसे हुए थे लेकिन वो अपने कुत्ते मालीबू के बिना भारत लौटने को तैयार नहीं थे। इसके लिए उन्होंने भारत सरकार के अधिकारियों से सम्पर्क किया और कुत्ते के साथ ही वापसलौटने के गुहार लगाई। कुत्ते के तमाम कागज पूरे करने के बाद मुंबई आने की एनओसी दी। ऋषभ कीव से हंगरी बार्डर पहुंच गए हैं, वहां से मुंबई की फ्लाइट पकड़ेंगे। इसके बाद मुंबई से अपने घर देहरादून पहुंचेंगे.

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.