दो बच्चों के पिता एवं पंजाब के सीएम भगवंत मान आज करेंगे घुड़चढ़ी, इतने वर्ष में होगी दूसरी शादी

ख़बर शेयर करें

चंडीगढ़ एसकेटी डॉट कॉम

पंजाब के नवनिर्वाचित सीएम भगवंत मान आज चंडीगढ़ में दूल्हा बनेंगे वह 48 वर्ष की उम्र में अपने परिवार द्वारा पसंद की गई डॉ गुरप्रीत कौर के साथ विवाह बंधन में बनेंगे यह शादी उनकी मां और बहन मनप्रीत कौर की रजामंदी से हो रही है.

भगवंत मान राजनीतिक कारणों से अपने परिवार को समय नहीं दे पा रहे थे जिसकी वजह से उनकी पहली पत्नी से अनबन हो गई थी उनकी पत्नी चाहती है कि वह पंजाब छोड़कर अमेरिका के कैलिफोर्निया मैं शिफ्ट हो जाएंगे तो वह अपनी तलाक की अर्जी वापस ले लेगी लेकिन मान पहले भी परिवार व पंजाब में से एक को चुना और अब वह है पंजाब को छोड़कर अमेरिका नहीं जाना चाहते हैं.

जिसकी वजह से उनकी पत्नी ने उन्हें तलाक देने का निर्णय कर लिया भगवंत मान के एक पुत्र और एक पुत्री है जो कि उनके पंजाब के मुख्यमंत्री बनने के दौरान शपथ ग्रहण समारोह में चंडीगढ़ पहुंचे थे

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान दूसरी बार शादी के बंधन में बंधने जा रहे हैं। गुरुवार को चंडीगढ़ में भगवंत मान शादी करेंगे। उनकी दुल्हन डॉ. गुरप्रीत कौर होंगी। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी शादी समारोह में शामिल होंगे। शादी का कार्यक्रम मुख्यमंत्री भगवंत मान के आवास पर आयोजित किया जाएगा।

भगवंत मान की शादी सिख रीति-रिवाज से होगी। सभी तैयारियां लगभग पूरी कर ली गई हैं। पंजाब सीएम की होने वाली दुल्हनियां भी सिख हैं। शादी के आयोजन का खर्च भी खुद सीएम भगवंत मान उठा रहे हैं। बताया जा रहा है कि भगवंत मान की मां हरपाल कौर की ख्वाहिश थी कि मुख्यमंत्री भगवंत मान अपना घर फिर से बसा लें।सीएम भगवंत मान के लिए मां और बहन मनप्रीत कौर ने खुद लड़की चुनी है। पंजाब के मुख्यमंत्री बनने से पहले भगवंत मान संगरूर से दो बार सांसद रह चुके हैं।

इस तरह से ली थी भगवंत मान ली सीएम पद की शपथ

भगवंत मान की होने वाली पत्नी उनके परिवार की करीबी हैं।समय से भगवंत मान और गुरप्रीत कौर एक-दूसरे को जानते हैं।
भगवंत मान की पहली शादी इंद्रप्रीत कौर के साथ हुई थी। भगवंत मान के बेटे दिलशान मान (17) और बेटी सीरत कौर मान (21) अमेरिका में अपनी मां इंद्रप्रीत कौर के साथ रहते हैं। 20 मार्च 2015 को भगवंत मान और इंद्रप्रीत कौर ने कोर्ट में आपसी सहमति से तलाक की अर्जी लगाई थी।

इस अर्जी में मान का तर्क था कि वे राजनीति के चलते अपनी पत्नी से तलाक ले रहे हैं।लोगों ने विश्वास से उन्हें चुना है। रिपोर्ट्स के मुताबिक कोर्ट में दी गई अर्जी में भगवंत मान की पत्नी ने शर्त रखी थी कि वे अगर मान भारत छोड़कर कैलिफोर्निया शिफ्ट हो जाते हैं तो तलाक की अर्जी वापस ले लेंगी।

भगवंत मान अपने पुत्र एवं पुत्री के साथ


दूसरी ओर मान राजनीति छोड़कर विदेश नहीं जाना चाहते थे। मान का तर्क था कि वे लोगों का विश्वास नहीं तोड़ सकते। अगर उनकी पत्नी उनके साथ भारत में सैटल होना चाहती हैं तो वे तलाक की अर्जी वापस ले लेंगे। भगवंत मान ने अपने तलाक का कारण अपने फेसबुक पेज पर भी शेयर किया था। इमसें उन्होंने लिखा था, ‘जो लटका समय से था वह हल हो गया, कोर्ट विच्च फैसला यह कल हो गया, इक पासे परिवार, दूजे पासे सी पंजाब, मै तो यारो अपने पंजाब वल्ल हो गया।’

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.