अल्मोड़ा-भवाली मार्ग पर चालक को आई झपकी, खाई में गिरी कार, एक की मौत#caraccident

ख़बर शेयर करें

भवाली एसकेटी डॉट कॉम

नींद लिए बगैर लगातार वाहन चलाना कभी भी खतरे की घंटी साबित हो सकता है ऐसा ही कुछ बागेश्वर निवासी एक वाहन चालक के साथ हुआ जब बरेली से लौटने के बाद झपकी आते ही कार खाई में गिर गई. खाई में गिरने के वाद एक व्यक्ति हयात सिंह कार से छिटक गया और गंभीर चोट के लगते अस्पताल जाने से पहले उसकी मौत हुई.

जानकारी के अनुसार अल्मोड़ा हाईवे में शुक्रवार को निगलाट के पास एक कार 50 मीटर गहरी खाई में जा गिरी। हादसे में एक व्यक्ति की मौत हो गई, वहीं दो अन्य घायल हो गए। घायलों को सड़क से गुजर रहे 19 कुमाऊं रेजीमेंट के जवानों ने तत्काल खाई से बाहर निकाला। ग्राम प्रधान पंकज निगलटिया ने पुलिस को सूचना दी और एंबुलेंस की मदद से घायलों को अस्पताल पहुंचाया।

बागेश्वर का रहने वाला है मृतक
पुलिस जानकारी के अनुसार, शुक्रवार को लीती कपकोट, बागेश्वर निवासी 54 वर्षीय चालक हयात सिंह पुत्र कुंवर सिंह व लीती कपकोट निवासी 45 वर्षीय खिम सिंह पुत्र पान सिंह, लीती कपकोट निवासी 52 वर्षीय खुशहाल सिंह पुत्र भवान सिंह कार से बरेली से बागेश्वर की ओर जा रहे थे। तभी सुबह करीब 9:30 बजे निगलाट के समीप उनकी कार 50 मीटर गहरी खाई में जा गिरी, जिसमे चालक हयात सिंह की मौत हो गई। वहीं कार सवार 2 लोग बुरी तरह फंस गए।

कुमाऊं रेजीमेंट के जवानों ने किया रेस्क्यू
इसी समय हल्द्वानी से रानीखेत की ओर 19 कुमाऊं रेजीमेंट के जवान ट्रक से जा रहे थे। उन्होंने ततपरता दिखाते हुए सूबेदार बच्चे सिंह के नेतृत्व में रेस्क्यू कर घायलों को खाई से बाहर निकाला गया। ग्राम प्रधान पंकज निगल्टिया ने पुलिस को सूचित किया और एंबुलेंस की मदद से उन्हें सीएचसी भवाली पहुंचाया। अस्पताल में चिकित्सकों ने चालक हयात को मृत घोषित कर दिया।कार सवार घायलों ने बताया कि गुरुवार रात 10 बजे वह बागेश्वर से बरेली राममूर्ति में एक मरीज भर्ती करने गए थे। वहां से शुक्रवार की सुबह वह वापस लौटे, मगर निगलाट के समीप कार खाई में जा गिरी, जिससे हयात गाड़ी से बाहर छिटक गया। उन्होंने बताया हयात आर्मी से सेवानिवृत्त था।

घायलों ने बताया, इस कारण हुआ हादसा
सीएचसी के डॉ. अक्षय ने बताया कि हयात की अस्पताल पहुंचने से पहले मौत हो चुकी थी। अन्य दो घायलों को प्राथमिक उपचार दिया। कोतवाल उमेश कुमार मलिक ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजने के साथ मृतक के स्वजनों को सूचित कर दिया गया है। कार में सवार दोनों घायल चालक को नींद की झपकी आना हादसे का कारण बता रहे हैं।

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.