दुःखद -मेहंदी से रंगे हाथ, शादी की खुशी में नाच रही दुल्हन अचानक धड़ाम से गिरी नीचे हो गई मौत , दोनों परिवार रह गए सन्न

ख़बर शेयर करें

भीमताल skt. com

Ad
Ad

कई बार होनी से बड़ी अनहोनी हो जाती है अपनी ही मेहंदी में सजना को याद करते हुए नाच रही दुल्हन अचानक गस खाकर नीचे गिर गई और अस्पताल ले जाकर डॉक्टर ने उसे मृत्यु घोषित कर दिया

दोनों परिवारों के पैरों की तले जमीन खिसक गई शादी के लिए खुशी-खुशी यहां भीमताल की रिसोर्ट में दोनों परिवार यहां पहुंचे थे लड़की वाले दिल्ली से तो लड़के वाले लखनऊ से पहुंचे थे

शादी की तैयारी हो चुकी थी मेहंदी की रस्म चल रही थी सभी में अपना-अपना नृत्य किया और दुल्हन की बारी थी दुल्हन भी मेहंदी से रंगे हाथों के बीच सजना को याद करते हुए नृत्य कर ही रही थी कि अचानक गस खाकर नीचे गिर गई और अस्पताल ले जाकर डॉक्टर ने प्रयास से किया लेकिन बच नहीं पाई जिससे दोनों परिवारों के बीच कोहराम मच गया

भीमताल थाना क्षेत्र अंतर्गत रिसोर्ट में मेहंदी रस्म के दौरान नाचते-नाचते एक दुल्हन की मौत हुई है. बताया जा रहा की दुल्हन दिल्ली के रहने वाली थी जबकि दूल्हा लखनऊ का रहने वाला है. शादी समारोह के लिए दूल्हा और दुल्हन का परिवार भीमताल स्थित नाैकुचियाताल एक रिसॉर्ट में पहुंचा था. फिलहाल दुल्हन के परिवार वाले बिना पोस्टमार्टम के दुल्हन का शव अपने साथ दिल्ली ले गए.
दुल्हन के असमय मौत के बाद शादी समारोह में पहुंचे दोनों परिवारों में मातम छा गया.
पुलिस को कानूनी कार्रवाई नहीं किए जाने के प्रार्थना पत्र के बाद परिजन शव लेकर दिल्ली लौट गए. घटना शनिवार दिन रात की बताई जा रही है.
भीमताल थानाध्यक्ष जगदीप नेगी ने बताया की बी 28 आदर्श आर्या अपॉटमेंट, सेक्टर छह द्वारका (नई दिल्ली) अपनी बेटी श्रेया जैन (28) की शादी के लिए परिजनों और कुछ खास परिचितों के साथ नौकुचियाताल के एक रिजॉर्ट में आए हुए थे.श्रेया जैन की शादी लखनऊ निवासी युवक से होनी थी दोनों परिवार रिसोर्ट में ठहरा हुआ था।
शनिवार की देर शाम को मेहंदी समारोह के दौरान श्रेया स्टेज पर डांस करते समय अचानक बेहोश हो गई आनन-फानन में उसे भीमताल सीएचसी ले जाया गया यहां डॉक्टर अस्पताल में डॉ. राशिद ने उसे मृत घोषित कर दिया डॉक्टर ने बताया कि करीब डेढ़ घंटे तक युवती को बचाने का भरसक प्रयास किया गया लेकिन उसे बचाया नहीं जा सका.
आशंका जताई कि हार्ट अटैक की वजह से युवती की मौत हुई है इधर बेटी की मौत से परिजनों में कोहराम मच गया. सूचना पर पुलिस भी मौके पर पहुंची लेकिन परिजनों की ओर स की ओर से कोई कानूनी कार्रवाई नहीं किए जाने का प्रार्थना पत्र भीमताल पुलिस को सौंपा गया इसके बाद परिजन देर रात में ही शव को लेकर दिल्ली के लिए रवाना हो गए.