यहां पढ़ाई के डर से भाग आया था युवक, गौरीकुंड में बन गया बाबा

ख़बर शेयर करें



यहां पुलिस को सत्यापन अभियान के दौरान एक ऐसा युवक मिला, जो अपने घर से इसलिए भाग आया था कि उसका पढ़ाई में मन नहीं लग रहा था। यह युवक राजस्थान के गुलाबपुरा का बताया जा रहा है। युवक यहां, एक साधु के साथ रह रहा था। उसने बताया कि पढ़ाई के दबाव के कारण वो 25 मार्च को अपने घर से बिना बताए दारनाथ के लिए निकल गया था।


पूछताछ के दौरान विकास मीणा (21) पुत्र बृज लाल मीणा, निवासी ग्राम गुलाबपुरा, पो. इनायती, थाना सपोटा, जिला करोली, राजस्थान ने बताया कि वह झोटवाड़ा जिला पश्चिम जयपुर के आदर्श विद्या मंदिर में बीएससी तृतीय वर्ष का छात्र था। पढ़ाई को लेकर घरवालों के दबाव के कारण वह 25 मार्च को बिना किसी को बताए केदारनाथ के लिए निकल पड़ा।


उसने बताया कि 15 दिनों की पैदल यात्रा के बाद वह गौरीकुंड पहुंचा। इस दौरान उसने ऋषिकेश में अपना मोबाइल नदी में फेंक दिया। पूछताछ में युवक ने अपने भाई का मोबाइल नंबर बताया, जिस पर बातचीत कर परिजनों को जानकारी दी गई। युवक को सोनप्रयाग लाकर पुलिस ने खाना और कपड़े दिए।

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.