शिंदे ने जीता फ्लोर टेस्ट, 3 अंकों तक नहीं पहुंच पाया महाराष्ट्र विकास अघाडी

ख़बर शेयर करें

मुंबई एसकेटी डॉट कॉम

महाराष्ट्र की सिंधी सरकार ने विश्वासमत जीत लिया है हिंदी और भाजपा की मिली जुली सरकार के 164 जबकि महाराष्ट्र विकास आघाडी 100 के आंकड़े तक नहीं पहुंच पाई. एनसीपी शिव सेना ठाकरे गुट,और कांग्रेस की महा विकास आघाडी के सरकार के विरोध मे सिर्फ 99 मत मिले. बताया जा रहा है कि कांग्रेस के 9 विधायकों समेत 21 विधायक सदन से अनुपस्थित रहे सदन में मौजूद तीन विधायकों ने भी मतदान से परहेज किया.

जिस तरह से विधानसभा अध्यक्ष के चुनाव में स्पीकर के लिए नार्वेकर को जीत मिली उसी तर्ज पर सरकार ने बहुमत भी हासिल करना है बल्कि यह आंकड़ा पहले से बढ़ गया है.

सदन में कुल 288 निर्वाचित जिनमें से कई विधायक जिनके नाम अभी पता नहीं चले. कांग्रेस के 9 विधायक गैरहाजिर रहे जिनमें मुख्य रूप से अशोक चौहान प्रणीति शिंदे जितेश अंतापुर कर, विजय वडेट्टीवार जीशान सिद्दीकी धीरज देशमुख कॉल पाटिल राजू मोहन, शिरीष चौधरी शामिल हैं.

सुप्रीम कोर्ट ने शिवसेना के ठाकरे गुट को झटका दिया विधानसभा अध्यक्ष द्वारा दिए गए निर्णय जिसमें सचेतक और नेता सदन की मान्यता खत्म कर दी गई हैं. सुप्रीम कोर्ट ने इसे तत्काल सुनने से इनकार कर दिया.

सरकार ने फ्लोर टेस्ट जरूर जीत लिया और शिंदे सरकार फिलहाल बच गई लेकिन यह सब अभी सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के अधीन है 11 तारीख आने वाले इस निर्णय में अगर शिंदे गुट के 16 विद्यायक अगर अयोग्य घोषित कर दिया तो निश्चय रूप से तख्तापलट हो सकता हैं.

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.