#Police पुलिस ने इन पत्रकारों के ठिकानों पर की छापेमारी ,हैरान कर देगी वजह

ख़बर शेयर करें

चीन से फंडिंग विवाद के बीच न्यूज़क्लिक से जुड़े पत्रकारों के ठिकानों पर दिल्ली पुलिस ने छापेमारी की है और कई लोगों से पूछताछ चल रही है। कई लोकेशन पर एक साथ छापेमारी शुरू की गई है। ये छापेमारी दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल की डिजिटल न्यूज वेबसाइट न्यूज क्लिक और उनके कुछ पत्रकारों के यहां चल रही है।

Ad

रेड के दौरान पुलिस की स्पेशल सेल ने मोबाइल और लैपटॉप, कंप्यूटर समेत कई इलेक्ट्रॉनिक एविडेंस जब्त किए हैं। पुलिस ने यूएपीए के तहत केस दर्ज किया गया है। जानकारी के मुताबिक पुलिस ने हार्डडिस्क डेटा भी लिया है। न्यूज क्लिक की फंडिंग को लेकर ईडी पहले भी रेड मार चुकी है। ईडी ने इस मामले में मनी लांड्रिंग का केस दर्ज किया था और न्यूज क्लिक की कुछ संपत्तियां भी अटैच की थीं। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल के अधिकारी पत्रकारों के ठिकानों पर तलाशी ले रहे है।


हालांकि अब तक मामले में कोई भी गिरफ्तारी नहीं हुई है। सूत्रों के मुताबिक कुछ पत्रकारों को पूछताछ के लिए पुलिस स्टेशनों में ले जाया गया है। जिनमें अभिसार शर्मा और उर्मिलेश शामिल हैं। ईडी इससे पहले न्यज पोर्टल के खिलाफ मामला दर्द कर उसकी फंडिंग की जांच कर चुकी है। दिल्ली पुलिस ने यूएपीए के तहत केस दर्ज किया है, जिसके तहत आज पत्रकारों की तलाशी ली गई है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक इसके बारे में ज्यादा जानकारी पुलिस दोपहर में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर साझा करेगी।


अगस्त महीने में न्यूयॉर्क टाइम्स की एक जांच में आरोप लगाया गया था कि न्यूज़क्लिक उन संगठनों में से एक है, जिन्हें अमेरिकी करोड़पति नेविल रॉय सिंघम से जुड़े नेटवर्क ने फंडिंग की थी, जो चीन के प्रोपेगेंडा को बढ़ावा देता है।


जानकारी के अनुसार, पुलिस ने संजय राजौरा, भाषा सिंह, उर्मिलेश, प्रबीर पुरकायस्थ, अभिसार शर्मा, औनिंद्यो चक्रवर्ती और सोहेल हाशमी के घर पर छापेमारी की. उनके फोन और लैपटॉप जब्त कर लिए। एनडीटीवी की रिपोर्ट के अनुसार, दिल्ली पुलिस ने पत्रकारों के खिलाफ गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम यूएपीए लगाया है.