सुमित ह्रदयेश एवं पार्षद रवि जोशी को पुलिस ने किया नजरबन्द घर के बाहर जुटी कई चौकियों की पुलिस

ख़बर शेयर करें

हलद्वानी एसकेटी डॉट कॉम

अतिक्रमण का विरोध करने जा रहे कांग्रेस विधायक सुमित हृदेश को पुलिस ने उनके ही निवास पर नजर बंद कर दिया है। पुलिस का का कहना है कि अतिक्रमण में बाधा ना डालें इसलिए यह कार्यवाही की गई है जबकि सुमित ह्रदयेश अतिक्रमण को भाजपा की तानाशाही बताते हुए कह रहे हो कि कई ऐसे लोग हैं जिन्होंने अतिक्रमण किया है लेकिन पुलिस फिर गरीब लोगों को परेशान कर रही है उन्होंने कहा कि पुलिस उन्हें गिरफ्तार क्यों नहीं कर लेती है ।

हल्द्वानी में नगर निगम और प्रशासन काफी दिनों से बाजार क्षेत्र में अतिक्रमण पर कार्यवाई कर रहा है, ऐसे में आज नगर निगम द्वारा बाजार क्षेत्र मछली बाजार में अतिक्रमण पर कार्यवाई कर रहा है, जिसका विरोध करने जा रहे हैं हल्द्वानी से कांग्रेस विधायक सुमित ह्रदयेश को प्रशासन और पुलिस ने उंनको घर में नजरबंद कर दिया है और उनके घर पर भारी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई है। एसडीएम हल्द्वानी मनीष कुमार सिंह, सीओ भूपेंद्र धौनी समेत कई थाने और चौकियों की प्रभारी कांग्रेस विधायक के घर पर मौजूद हैं।
वहीं बड़ी संख्या में कांग्रेस के पदाधिकारी और कार्यकर्ता सुमित ह्रदयेश के समर्थन में उनके आवास पर जमे हुए हैं, कांग्रेस विधायक सुमित ह्रदयेश ने आरोप लगाते हुए कहा कि विधानसभा चुनाव में जिनकी हल्द्वानी से हार हुई है, उन्हीं के इशारे पर नगर निगम प्रशासन गरीब लोगों पर अतिक्रमण की कार्रवाई कर रहा है और उनके दुकानों को उजाड़ रहा है। सुमित का कहना है कि नगर निगम और प्रशासन पूरी तरह से तानाशाही रवैया अपना रहा है, जिसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। वह नगर निगम और प्रशासन की इस कार्रवाई का विरोध करते हैं उन्होंने कहा की कई सारे ऐसे लोग हैं, जिनके घर या प्रतिष्ठान खुद अतिक्रमण की जद पर हैं पहले उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए, इसके बाद ही बाजार क्षेत्र में अतिक्रमण पर कार्रवाई हो। फिलहाल कांग्रेस विधायक सुमित ह्रदयेश अपने घर में समर्थकों के साथ मौजूद हैं और खुद को पुलिस से गिरफ्तार करने की बात कह रहे हैं, वह बाजार क्षेत्र में जाने को बोल रहे है लेकिन पुलिस और प्रशासन भी उनको घर से बाहर नही जाने दे रहा है। घर नगर निगम के पार्षद रवि जोशी को भी उनके निवास पर नजरबंद कर लिया है। रवि जोशी इन थे तरह पार्षद माने जाते हैं वह हमेशा निगम मैं अपनी बातों को प्रमुखता से रखते आए हैं

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.