पीएम मोदी का ऋषिकेश दौरा प्रदेश वासियो के लिए छलावा मात्र: सरिता

Ad
ख़बर शेयर करें

नैनीताल एसकेटी डॉटकॉम
प्रदेश अध्यक्ष महिला कांग्रेस सरिता आर्य ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ऋषिकेश दौरे को प्रदेशवासियों के साथ एक छलावा बताया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री देश के विभिन्न राज्यों में जाकर विभिन्न तरह की विकास परक घोषणाएं कर रहे हैं लोगों को तमाम तरह की आश्वासन दे रहे हैं उत्तर प्रदेश में लोगों को घर बांट रहे हैं लेकिन उत्तराखंड को सिर्फ बातों का झुनझुना देकर वापस चले गए ।

प्रदेश के लोगों ने उनके इस दौरे से बड़ी आस लगाई थी कि वह बेरोजगारों ,महिलाओं, सीमांत क्षेत्र के विकास तथा नौजवानों के रोजगार संबंधी घोषणाएं करेंगे । लेकिन नरेंद्र मोदी उत्तराखंड में सिर्फ बातें कह कर चले गए उन्होंने लखीमपुर खीरी में भाजपा मंत्री के पुत्र द्वारा मारे गए किसानों के लिए दो शब्द भी संवेदना के नहीं बोल पाए। इस भगदड़ में उत्तराखंड की भी कई किसान जख्मी हुए हैं उनके लिए भी उत्तराखंड में आकर कोई संवेदना नहीं व्यक्त की गई ।

नरेंद्र मोदी ने वर्ष 2017 के आम चुनाव में किस तरह से डबल इंजन के माध्यम से प्रदेश को विकास की बुलंदियों पर पहुंचाने की जो घोषणा की थी उस घोषणा की हवा निकल कर रह गई इसलिए वह यहां कोई भी घोषणा चाह कर भी नहीं कर रहे हैं । प्रधानमंत्री यहां सिर्फ प्रदेश वालों के लिए ऑक्सीजन टावर का लोकार्पण कर गए यह टावर उस वक्त तैयार हो रहे हैं जब अब तक हजारों लाखों लोगों ने अपनी जान दे दी इसकी व्यवस्था सरकार को पहले ही करनी चाहिए थी जब पहली लहर आई थी उस वक्त इस तरह की व्यवस्थाएं करने में सरकार नाकाम रही ।

सरकार को उस वक्त लोगों की चिंता की वजह विभिन्न राज्यों में कांग्रेस की सरकारों को तोड़कर अपनी सरकार बनाने की ओर ध्यान था। इसके अलावा वह किसी भी कीमत पर बंगाल को जीतना चाहते थे बंगाल की जीत की कीमत पर देश के लाखों लोगों को अपनी जान कोरना की दूसरी लहर में गवानी पड़ी। केंद्र सरकार की अच्छी नियत नहीं होने के कारण ना तो वह बंगाल ही जीत पाई और ना ही वह लाखों लोगों कि जिंदगी ही बचा पाई।

लोगों को ऑक्सीजन के लिए दर-दर भटकना पड़ा एक राज्य से दूसरे राज्य में उपचार के लिए जाना पड़ा लोगों को अस्पतालों में बेड उपलब्ध नहीं होने के कारण सड़कों में गाड़ियों पर लेटे रहे लेकिन सरकार का ध्यान बंगाल की कुर्सी हासिल करने पर ज्यादा था जिसकी वजह से वह व्यवस्था नहीं कर पाई अब लोगों को रोजगार की जरूरत है तो रोजगार के बजाय वह चुनाव के लिए तरह-तरह के सब्जबाग दिखा रहे हैं जबकि धरातल पर कहीं भी कोई भी घोषणा उत्तर नहीं पाई है ।

वर्ष 2017 के दृष्टि पत्र को अगर उठा लिया जाए तो सरकार उसमें से किए गए एक भी वायदे को पूरा नहीं कर पाई जिसकी वजह से उन्हें उत्तराखंड में एक नहीं बल्कि तीन-तीन मुख्यमंत्री बदलने पड़े । महिला कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष सरिता आर्या ने केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ वह वाला नारा देने वाली भाजपा के शासनकाल में पूरे देश में सबसे ज्यादा अत्याचार बलात्कार महिलाओं पर हुए हैं ।

उत्तर प्रदेश में बालिकाएं गायब कर दी गई और उत्तर प्रदेश के कई विधायक इन आरोपों से से अभी भी जेल में है अभी वर्तमान में में लखीमपुर खीरी के केस में केंद्रीय राज्य मंत्री का बेटा गायब हो गया है उसे सरकार का संरक्षण प्राप्त है जिसकी वजह से ही उसकी गिरफ्तारी नहीं हो पा रही है। उन्होंने केंद्र एवम राज्य सरकार पर जाता को ठगने का आरोप लगाया।

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *