लग गई मुहर, धामी चंपावत से लड़ेंगे चुनाव गहतोड़ीं ने दिया इस्तीफा

ख़बर शेयर करें

देहरादून एसकेटी डॉट कॉम

प्रदेश के युवा तुर्क मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी चंपावत से उप चुनाव लड़ेंगे। उनके लिए चंपावत से भाजपा के दूसरी बार बने विधायक कैलाश गहतोड़ी ने सीट खाली कर दी है उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष रितु भूषण खंडूरी को अपना इस्तीफा सौंप दिया है दिया है

इसके साथ ही मुख्यमंत्री के अन्य जगहों से चुनाव लड़ने की खबरों पर विराम लग गया है। विधायक कैलाश गहतोड़ी ने विधानसभा अध्यक्ष रितु भूषण खंडूरी को अपना इस्तीफा सौंप कर अपनी घोषणा पर अमलीजामा पहना दिया है।

इस बात की पहले से ही चर्चा थी लेकिन धामी के दिल्ली दौरे से इस बात पर मुहर लग गई है की उन्होंने आलाकमान के सामने चंपावत उन परिस्थितियों को सामने रखा और आलाकमान ने उनके प्रस्ताव पर मुहर लगाते हुए उन्हें चंपावत से चुनाव लड़ने की हरी झंडी दिखा दी ।

आपको बता दें कि 2022 के चुनाव में पुष्कर सिंह धामी खुद खटीमा से चुनाव हार गए थे लेकिन केंद्रीय आलाकमान ने उनके नेतृत्व में दोबारा सत्ता में आने को महत्व देते हुए उन्हें दोबारा मुख्यमंत्री बना दिया जिसके तहत उन्हें 6 महीने के भीतर विधायक निर्वाचित होकर सदन में पहुंचना था इसी कवायद को लेकर भाजपा के आधा दर्जन विधायकों और कांग्रेस के भी एक विधायक ने ऐसी पेशकश की थी ।

लेकिन सुरक्षित स्थान को देखते हुए भाजपा आलाकमान ने चंपावत मैं उनके चुनाव लड़ने को हरी झंडी दिखा दी कैलाश जोड़ी ने चुनाव जीतने के बाद मुख्यमंत्री धामी के लिए सीट छोड़ने की घोषणा कर दी थी। चंपावत विधानसभा खटीमा विधानसभा से सटी हुई है और मुख्यमंत्री के पूर्णागिरी मेले के उद्घाटन और यहां के विषयों पर रुचि लेने से शुरू से आभास होने लग गया था कि वह चंपावत से चुनाव लड़ेंगे और वह कैलाश गए थोड़ी के इस्तीफे के साथ ही इस पर लगे हुए सारे कयास खत्म हो गए।

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.