पत्नी के चरित्र पर शक होने पर पति ने चढ़ाई कार, मां को बचाने गए बेटे को पिता ने उतार दिया मौत के घाट

ख़बर शेयर करें

Gorakhpur Husband climbs car suspicion of wife character father put son death who went to save mother

गोरखपुर: रिश्तों में मामूली बात को लेकर झगड़ा करने के कई मामले सामने आते रहते है। जिसमें लोग एक दूसरी की जान के दुश्मन भी बने है। इसी बीच उत्तर प्रदेश के जिले गोरखपुर में बुधवार की रात पति-पत्नी का विवाद इतना बढ़ गया कि पति ने अपनी ही पत्नी पर कार चढ़ा दी। इतना ही नहीं अपनी मां को बचाने गए बेटे को भी पिता ने कार से रौंद डाला, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। इस घटना के बाद से आरोपी पिता व पति मौके से फरार हो गया। पुलिस ने बेटी की तहरीर पर आरोपी पिता के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उसकी तलाश शुरू कर दी है।

प्रॉपर्टी डीलर को अपनी पत्नी के चरित्र पर था शक
जानकारी के अनुसार यह मामला शहर के पिपराइच थाना क्षेत्र के बलवार में बुधवार की रात पत्नी से विवाद के बाद प्रॉपर्टी डीलर ने उस पर कार चढ़ा दी। वहीं मां को बचाने गए बेटे महावीर (26) की कार से कुचल कर मौत हो गई है, जबकि महिला को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटना की वजह चरित्र पर संदेह सामने आया है। एसपी नार्थ मनोज कुमार अवस्थी के अनुसार बांसगांव थाना क्षेत्र के मूल निवासी चौथी गुप्ता पिपराइच इलाके के बेलवार में मकान बनवाकर परिवार के साथ रहते हैं। चौथी गुप्ता प्रॉपर्टी डीलर का काम करते हैं और बुधवार की रात अपने दोस्तों के साथ दावत करके घर लौटे तो पत्नी किसी और से मोबाइल फोन से बात करने के आरोप में विवाद करने लगे।

अपनी मां को बचाने गए बेटे की भी कर दी हत्या
एसपी नार्थ मनोज कुमार अवस्थी आगे कहते है कि विवाद के बाद पत्नी मंजू को मारते हुए घर से बाहर ले गए और जमीन पर गिराकर अपनी चार पहिया वाहन को उसपर चढ़ा दिया। तो वहीं दूसरी ओर मारपीट का शोर सुनकर बेटा जग गया और अपनी मां को पिता की हरकतों से बचाने के लिए भागा। लेकिन  नाराज चौथी ने बेटे महावीर पर भी कार चढ़ा दी, जिससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई और इसके बाद वो घटनास्थल से फरार हो गया। इस घटना की जानकारी बेटी कंचन गुप्ता ने पुलिस को दी। जिसके बाद एसपी नाथ खुद मौके पर पहुंच गए और आनन-फानन दोनों घायलों को मेडिकल कॉलेज पहुंचाया जहां बेटे को मृत घोषित कर दिया गया।

इस बात को लेकर आए दिन होता था विवाद
पुलिस के अनुसार चौथी अपनी पत्नी के चरित्र पर संदेह करता था और इसी बात को लेकर आए दिन घर में विवाद करता था। इसको लेकर कई बार बेटा और बेटी ने भी समझाने की कोशिश की थी लेकिन उनसे भी वह मारपीट पर उतारू हो जाता था। लेकिन बुधवार की रात विवाद इतना बढ़ गया कि उसने बेटे और पत्नी को जान से मारने की कोशिश की। जिसमें से बेटे की मौत मौके पर ही हो गई और पत्नी जिंदगी और मौत से मेडिकल कॉलेज में लड़ रही है। बेटी की तहरीर पर केस दर्ज कर लिया गया है। फरार आरोपी की तलाश की जा रही है।

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.