नैनीताल -आदमखोर गुलदार हुआ पिंजरे में कैद

ख़बर शेयर करें

नैनीताल जिले में जिस प्रकार से गुलदार का आतंक दिन-ब-दिन बढ़ता जा रहा है और गत दिवस पूर्व जिस प्रकार से गुलजार ने एक 5 वर्षीय मासूम को अपना निवाला बनाया उसके बाद इलाके में सनसनी मची हुई है इसी बीच एक बड़ी खबर सामने आ रही है बता दे कि मासूम को निवाला बनाने वाला गुलदार आखिरकार वन विभाग के पिंजरे में कैद हुई गया।हल्द्वानी- नैनीताल मार्ग स्थित समीपवर्ती चोपड़ा गांव के दांगड़ तोक में पांच वर्षीय बच्ची को मारने के बाद आदमखोर गुलदार को पकड़ने के लिए वन विभाग द्वारा लगाए गए पिंजरे में एक तेंदुआ कैद हुआ है। जिसे रानीबाग रेस्क्यू सेंटर भेजा जा रहा है। हालांकि फिलहाल कैद हुआ तेंदुआ आदमखोर है इसकी पुष्टि नहीं हो पाई है।

अभी फिलहाल नियुक्त शिकारी और वन विभाग के कर्मी क्षेत्र में गश्त करते रहेंगे।उल्लेखनीय है कि गत दिवस देर शाम चोपड़ा ग्राम सभा के दांगड़ तोक निवासी मोहन सिंह जीना की पांच वर्षीय बेटी राखी पर तेंदुआ ने हमला कर दिया था। परिजनों के समय रहते पहुंचने पर तेंदुआ बच्ची को आंगन पर ही छोड़ कर भाग गया। मगर गुलदार के हमले में बच्ची बुरी तरह जख्मी हो गई थी। जिसे तत्काल उपचार के लिए हल्द्वानी अस्पताल ले जाया गया। जहां उसकी मौत हो गई।इधर गत दिवस को परिजनों और ग्रामीणों ने तेंदुआ को मारने की मांग को लेकर हंगामा कर दिया। ग्रामीणों द्वारा तेंदुआ को मारने के आदेश नहीं होने तक बच्ची का अंतिम संस्कार नहीं किए जाने के ऐलान के बाद डीएफओ बीजूलाल टीआर मौके पर पहुंचे। जहां उन्होंने आदमखोर तेंदुआ को मारने के आदेश जारी करने के साथ ही पीड़ित पक्ष को मुआवजा राशि का चेक सौंपा।

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *