शादीशुदा महिला कॉन्स्टेबल ने छात्र को प्यार के जाल में फंसा की शादी, लूटे 5 लाख रुपये और जेवर

ख़बर शेयर करें

Rohtak: शादीशुदा महिला कॉन्स्टेबल ने छात्र को प्यार के जाल में फंसा की शादी, लूटे 5 लाख रुपये और जेवर

 क्या हो अगर कानून के रक्षक ही भक्षक बन जाए और जिन पर आंख-मूंद कर विश्वास किया जाता हो वो ही आपके साथ विश्वासघात कर बैठे. खाकी पर विश्वास करने वालों के लिए हरियाणा के रोहतक से एक बड़ी खबर सामने आई है, जहां एक महिला कॉन्स्टेबल की जालसाजी का बेहद ही चौंकाने वाला मामला सामने आया है

पुलिस ने महिला कॉन्स्टेबल को हिरासत में भेजा

रोहतक के शिवजी कॉलोनी थाने में पोस्टेड महिला कॉन्स्टेबल ने 20 साल के एक आईटीआई के छात्र को लिव-इन का झांसा देकर उससे पांच लाख रुपए ऐंठ डाले और साथ ही उसके साथ शादी भी रचा ली, लेकिन ये नहीं बताया कि वो पहले से ही शादीशुदा है. मामला सिटी थाना में दर्ज कर महिला कॉन्स्टेबल को न्यायायिक हिरासत में भेज दिया गया है.

महिला कॉन्स्टेबल ने छात्र को इस तरह फंसाया

मिली जानकारी के अनुसार, रोहतक के सुनारिया गांव की रहने वाली महिला अक्टूबर 2021 में अपने बेटे के साथ किसी केस की सुनवाई में शिवजी कॉलोनी थाने गई थी, जहां महिला कॉन्स्टेबल दया रानी ने युवक का नंबर ले लिया और उसके बाद उसका प्रेम प्रसंग शुरू हुआ. महिला का आरोप है कि लेडी कॉन्स्टेबल ने उसके बेटे का सिटी थाना क्षेत्र से इस साल मार्च में अपहरण भी करवा दिया था. साथ ही छात्र की बाइक भी कब्जे में ले ली थी और पुलिस ने उनकी सुनवाई नहीं की, जबकि उन्होंने सीसीटीवी फुटेज भी पुलिस को सौंपी थी.

आरोप है कि चौकी इंचार्ज को जब छात्र ने शिकायत दी तो उन्होंने पीड़ित पर समझौते के लिए दबाव बनाया. इस कारण उनको राजीनामा करना पड़ा. अब भी बार-बार आरोपी महिला कॉन्स्टेबल मैसेज भेज रही थी कि जैसे उसकी बाइक गायब कर दी, वैसे ही उसे और उसकी मां को भी गायब करवा देगी. इतना ही नहीं, गांव का मकान बिकवाकर पांच लाख रुपये भी ले लिए. इसके बाद घर के जेवरात भी ले गई.

कॉन्स्टेबल ने छात्र से अक्टूबर 2021 में की थी शादी

पीड़ित ने बताया की उसकी महिला कॉन्स्टेबल के साथ 29 अक्टूबर 2021 को शादी हुई थी और तब तक युवक को नहीं पता था कि वो पहले से ही शादीशुदा है. युवक का कहना है कि कहासुनी के केस में वो पुलिस थाने में गया था, तब महिला कॉन्स्टेबल ने उसका मोबाइल नंबर ले लिया और उससे बात करने लगी, वह पहले से न केवल शादीशुदा थी, बल्कि उसका 10 साल का बेटा भी है.

आरोप है कि महिला कॉन्स्टेबल ने छात्र से कहा था कि आधार कार्ड दे दो. उसमें उम्र बढ़ा देंगे. इसके बाद कोर्ट से लिव-इन रिलेशनशिप में रहने के लिए कागजात बनवा लेंगे. इसके बाद उसने घर आना शुरू कर दिया और बताया कि वह कुंवारी है और छात्र से शादी करना चाहती है.

कोर्ट ने महिला कॉन्स्टेबल को न्यायिक हिरासत में भेजा

डीएसपी डॉ रविंदर ने बताया कि पुलिस ने एक दिन के रिमांड के बाद आरोपी महिला कॉन्स्टेबल को अदालत में पेश किया, जहां से न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया. साथ ही एसपी उदय सिंह मीना ने आरोपी कॉन्स्टेबल को सस्पेंड कर विभागीय जांच के आदेश दिए हैं.

पुलिस के मुताबिक, पांच दिन पहले पीड़ित छात्र की मां ने शिकायत दी थी. पुलिस के संज्ञान में मामला आते ही विभाग ने महिला कॉन्स्टेबल के खिलाफ तुरंत करवाई की और हिरासत में ले लिया. हालांकि, पीड़ित का कहना है कि महिला कॉन्स्टेबल उससे मकान के नाम पर पांच लाख रुपये और जेवरात ले गई थी. उन्हें उनका पैसा वापिस दिया जाए.

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.