नियुक्ति पाने वाले RSS के प्रांत प्रचारक के करीबियों की लिस्ट वायरल, जांच की मांग

ख़बर शेयर करें

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (RSS) के पदाधिकारियों ने शनिवार को सीएम पुष्कर सिंह धामी से मुलाकात की है और सोशल मीडिया में वायरल हो रही नियुक्तियों की एक लिस्ट की जांच कराने की मांग की है।


दरअसल हाल ही में उत्तराखंड में सोशल मीडिया पर एक लिस्ट वायरल हुई जिसमें राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के उत्तराखंड के प्रांत प्रचारक युद्धवीर यादव के सगे संबंधियों के नाम लिखे हैं। इस लिस्ट में दावा किया गया है कि ये उन लोगों की लिस्ट है जिनको उत्तराखंड में अलग अलग विभागों में नौकरियां दीं गईं हैं और सभी RSS के प्रांत प्रचारक के रिश्तेदार या करीबी हैं।


सोशल मीडिया में ये लिस्ट वायरल होने के बाद RSS के पदाधिकारियों ने सीएम पुष्कर सिंह धामी से मुलाकात की और इस लिस्ट को फेक बताया है। RSS के पदाधिकारियों ने कहा है कि ये संगठन को बदनाम करने की सोची समझी साजिश है इसकी उच्च स्तरीय जांच कराई जानी चाहिए। RSS के पदाधिकारियों ने सीएम को इस संबंध में एक लिखित ज्ञापन सौंपा है।


वहीं RSS के पदाधिकारियों ने इस मामले में डीजीपी अशोक कुमार से मुलाकात की है। डीजीपी के निर्देश पर साइबर थाने में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। यह मामला आईटी एक्ट की धारा 66 सी और आईपीसी की धारा 501 और 506 के तहत दर्ज किया गया है।

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.