क्रेशर में हिस्सेदारी को लेकर आधी रात गरजी पिस्तौल,एक की मौत कनिष्ठ प्रमुख समेत इतने हो गए घायल

ख़बर शेयर करें

बाजपुर एसकेटी डॉट कॉम

उत्तराखंड में स्टोन कैंसर को लेकर हमेशा वर्चस्व की लड़ाई बनी रहती है इसके चलते कई बार अपराध हो जाते हैं। जेब में आई गर्मी की वजह से कोई भी किसी की जान लेने में पीछे नहीं रहता है। इतिहास रहा है कि खनन में हमेशा अपराध होने की वजह से कई लोगों को जिंदगी से हाथ धोना पड़ा है तथा कई लोग जिंदगी भर इसके जख्म को भुला नहीं पातेहैं।

ऐसा ही एक मामला बाजपुर में घट गया जहां बाजपुर के एक युवक कुलवंत सिंह की गोली लगने से मौत हो गई तथा कनिष्ठ प्रमुख तजिंदर सिंह समेत तीन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए ।

मंगलवार की आधी रात को पिपलिया गांव में एक स्टोन क्रशर पर करीब डेढ़ करोड़ के लेनदेन को लेकर हुए विवाद में दो पक्षों में जमकर गोलियां चलने लगी वारदात में एक पक्ष के युवक की गोली लगने से मौत हो गई है, जबकि कनिष्ठ प्रमुख समेत तीन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। घटना के बाद से अस्पताल और बाजपुर में भारी फोर्स तैनात कर दिया गया है।
बताया जा रहा है कि बाजपुर के पहाड़पुर गांव निवासी कनिष्ठ प्रमुख तजिंदर सिंह का पिपलिया गांव स्थित एक स्टोन क्रशर को लेकर विवाद चल रहा है। करीब डेढ़ करोड़ रुपए के लेनदेन का मामला बताया जा रहा है। इसी को लेकर मंगलवार की शाम नेशनल हाईवे पर स्थित एक होटल में पंचायत भी हुई, लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला।आरोप है कि जैसे हो डोर बेल बजाई घर के अंदर से तड़ातड़ गोलियां बरसानी शुरू कर दी गईं।

जिसमें गोली लगने से कुलवंत सिंह की मौत हो गई, जबकि कनिष्ठ प्रमुख तजिंदर सिंह, मोहित अग्रवाल, हरप्रीत सिंह घायल हो गए।

सूचना से पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में ही मौके पर पहुंची पुलिस सभी को सरकारी अस्पताल ले गई, जहां चिकित्सकों ने कुलवंत सिंह को मृत घोषित कर दिया, जबकि तजिंदर सिंह, मोहित व हरप्रीत सिंह को प्राथमिक उपचार देकर हायर सेंटर रेफर कर दिया है।

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.