इंटरसिटी बस सेवा में मनमाने ढंग से वसूल रहे किराए पर लगी लगाम, इतने रुपए हुआ कम

ख़बर शेयर करें

बस में तो हम सब लोग सफर करते ही हैं लेकिन महंगाई के इस दौर में दिन पर दिन बस का सफर करना भी आम जनता की जेब पर भारी पड़ता जा रहा है और बात करें हम इंटरसिटी बस सेवा की तो यहां पर तो किराया धीरे-धीरे बढ़ने लगा है । और इंटरसिटी बसों में कंडक्टर मनमाना किराया वसूल रहे थे। जिसको लेकर लोगों ने शिकायत की थी। मामले में विवाद होता देख यूनियन ने इसका संज्ञान लिया। यूनियन ने हल्द्वानी-रुद्रपुर रूट पर किराया 10 रुपये कम करने का फैसला लिया है। अब इस रूट पर यात्रा करने वालों को 40 रुपये प्रति व्यक्ति किराया देना होगा। पहले परिचालक 50 रुपये किराया वसूल रहे थे।


बस यूनियन ने कोरोना की दूसरी लहर के दौरान नुकसान को देखते हुए हल्द्वानी से रुद्रपुर रूट पर किराया 35 रुपये से बढ़ाकर 45 रुपये कर दिया था। लेकिन बसों के परिचालक इससे भी ऊपर 50 रुपये किराया वसूल रहे थे। जबकि उत्तराखंड रोडवेज का किराया 45 रुपये के आसपास है। इस मार्ग पर रोजाना एक हजार से ज्यादा यात्री बसों में सफर करते हैं।


यात्रियों से मनमानी वसूली पर इंटरसिटी बस यूनियन और परिवहन विभाग भी कोई कार्रवाई नहीं कर रहा था। लेकिन, अब विरोध बढ़ने लगा था, ऐसे में यूनियन के पदाधिकारी हरकत में आए और का किराया 10 रुपये कम कर 40 रुपये कर दिया।

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.