लैंडफ्रॉड के मामले में कमिश्नर ने प्रॉपर्टी की काम करने वाले इस युवक को पीड़ित के पैसे वापस करने की दी चेतावनी#landfrad

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी एसकेटी डॉटकॉम

कुमाऊं कमिश्नर दीपक रावत ने अपने कैंप कार्यालय में आ रही फरियादियों की समस्याओं को सुना और अधिकांश लैंड फ्रॉड के मामले सामने आए हालांकि उन्होंने बताया कि जब से उन्होंने लैंडफ्राड कमेटी की सिफारिश पर 18 मुकदमे दर्ज करने के निर्देश दिए हैं

https://youtube.com/shorts/SNef9C_dK0M?feature=share

https://youtube.com/shorts/SNef9C_dK0M?feature=share

https://youtube.com/shorts/SNef9C_dK0M?feature=share

उसका असर है कि फ्राड के मामले अब घट जाएंगे. लेकिन इसके बावजूद अभी भी लगातार लैंड फ्रॉड के मामले सामने आ रहे हैं. उन्होंने भूमि की एक ऐसे मामले का अपने सामने निस्तारण कराया जिसमें प्लॉट बेचने वाले लोगों ने खेत संख्या रजिस्ट्री वाली जगह के बजाय खरीददार को दूसरे प्लॉट पर कब्जा दिला दिया और उसी प्लॉट को दूसरे को बेच दिया.

https://youtube.com/shorts/SNef9C_dK0M?feature=share

कॉलोनी काटने वाले व्यक्ति को बुलाकर उसकी दूसरी पड़ी खाली भूमि पर खरीददार को लोड देने को कहा तथा बेचे जाने के बाद उसके खरीददार को भी उस की रजिस्ट्री वाला लोड दिलाया. कमिश्नर द्वारा मामलों के निस्तारण करने के बाद लगातार यहां लोगों की भीड़ बढ़ती जा रही है. शाम को 8:00 बजे तक लोग अपनी बारी का इंतजार करते रहे.

इसके अलावा नोट बेचने वाले एक युवक को अपने कैंप ऑफिस में बुलाकर प्लॉट खरीददार से लिए गए  देने को कहा  क्योंकि वह प्लॉट खरीददार को प्लॉट नहीं जिला पाया  जबकि इसी एवज में उसने एडवांस के नाम पर ₹11लाख प्लॉट खरीदार से ले लिए थे. उन्होंने सख्त रुख अपनाते हुए दिए गए पैसे वापस देने को कहा.

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.