एससी आयोग एक्शन मे – कमिश्नर को सल्ट के हत्याकांड की जांच करने के दिए आदेश

ख़बर शेयर करें

नैनीताल एसकेटी डॉटकॉम

Salt almora news -अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष मुकेश कुमार ने सल्ट के पनुवाध्ययोखान निवासी जगदीश चंद्र की भिकियासैन से अपहरण के बाद हुई हत्या की जांच के निर्देश देकर 15 दिन में रिपोर्ट पेश करने को कहा है. गौरतलब है कि उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी से जुड़े हुए जगदीश चंद्र ने सामान्य जाति की गीता उर्फ गुड्डी से अल्मोड़ा की गैराड मंदिर में प्रेम विवाह किया था.

जिसके बाद गुड्डी ने उसके साथ किसी भी तरह की अनहोनी होने की आशंका के चलते पुलिस को सूचना दी थी लेकिन पुलिस ने इस पर कोई ध्यान नहीं दिया जिसके बाद गुड्डी के सौतेले पिता और भाई ने जगदीशचंद्र को भिकियासैन से गाड़ी में अपहरण कर उसकी निर्मम हत्या कर दी

सल्ट में हुई अनुसूचित जाति की युवक की हत्या के बाद प्रशासन अलर्ट हो गया है। उत्तराखण्ड अनुसूचित जाति आयोग के उपाध्यक्ष पी सी गोरखा ने सल्ट भिकियासेण अनुसूचित जाति के युवक की हत्या प्रकरण पर स्वतः संज्ञान लेकर कुमाऊं कमिश्नर नैनीताल को पत्र भेज कर 15 दिनों को भीतर जांच आख्या उपलब्ध करने के आदेश दिए है।

अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष मुकेश कुमार आज पहुंचेंगे पनुवाध्ययोखान

मामला 2 सितम्बर जिला अल्मोड़ा के ग्राम पनुवाद्युखन सल्ट तहसील का है जहां पर विगत अगस्त महीने में जगदीश चन्द्र ने गीता उर्फ(गुड्डी) ने गोलू देवता अल्मोड़ा को साक्षी मनकर हिन्दू रीति रिवाजों से शादी कर ली। गुड्डी जोकि समान्य जाति से होने के करण गुड्डी का जाति से बाहर शादी करने से सौतेले पिता और सौतेले भाई को रास नहीं आया।लड़की ने सौतेले पिता और सौतेले भाई से जान का खतरा होने के सम्बन्ध 27अगस्त को एस एस पी जिला अल्मोडा को पत्र भेजा था। जिसमें विभाग ने लापरवाही दिखाई और 2 सितम्बर को सौतेले पिता और सौतेले भाई ने जगदीश चन्द्र को मौत के घाट उतार दिया।

उत्तराखण्ड अनुसूचित जाति आयोग के उपाध्यक्ष पीसी गोरखा ने विभाग की सबसे बड़ी लापरवाही बताई और कहा भविष्य में प्रदेश में इस प्रकार के जातिगत उत्पीड़न मामले में संबन्धित अधिकारी को निष्पक्ष और त्वारित करवाही करने को कहा। जिससे लगातार हो रहे अनुसूचित जाति के लोगों को न्याय मिल सकेंऔर दोषियों के खिलाफ़ सख्त कार्रवाई हो सकें।

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.