हालीवुड की मूवी देख डकैत ने माडीफाई कराई थी कार, वारदात के बाद चंद मिनटों में हो जाते थे गायब

ख़बर शेयर करें

हालीवुड की मूवी देख डकैत ने माडीफाई कराई थी कार, वारदात के बाद चंद मिनटों में हो जाते थे गायब

गोरखपुर। मुंबई पुलिस की नाक में दम करने वाले सिद्धार्थनगर जिले के दो बदमाशों के पास मिली पुरानी कार को देखकर एसटीएफ हैरान हो गई। चंद मिनट में ही यह कार 200 किमी प्रति घंटे की रफ्तार पकड़ लेती है। हालीवुड की मूवी (फास्ट एंड फ्यूरियस) देखकर दोनों डकैतों ने इस कार को माडीफाई कराया था। दोनों डकैत मुंबई में डकैती की घटना को अंजाम देते और वारदात के बाद वह अपनी पुरानी कार से ही सिद्धार्थनगर के लिए रवाना हो जाते थे। 20 घंटे में ही वह मुंबई से सिद्धार्थनगर पहुंच जाते थे।

मुंबई के 16 मंजिला अस्पताल से पुलिस को चकमा देकर हुआ था फरार

एसटीएफ के हत्थे चढ़ा बदमाश खुर्शीद व उसका भाई अशरफ सिद्धार्थनगर के शोहरतगढ़ थाने के धनौरा मुस्तहकम के रहने वाले हैं। दोनों डकैत भाइयों का उत्तर प्रदेश में कोई आपराधिक इतिहास नहीं है। एसटीएफ के मुताबिक दोनों मुंबई में डकैती व चोरी की घटना को अंजाम देते थे। हर बड़ी घटना के बाद दोनों कार से ही सिद्धार्थनगर आ जाते थे। पुरानी कार को भी ऊपर से देखकर कोई अंदाजा नहीं लगा सकता है कि पल भर में ही यह कार हवा से बातें करती होगी।

पाइप के सहारे 16 मंजिली बिल्डिंग से उतर गया था अशरफ

एसटीएफ के प्रभारी निरीक्षक सत्य प्रकाश सिंह का कहना है कि खुर्शीद इतना दुस्साहसी है कि वह वर्ष 2020 में बीमारी की हालत में मुंबई की 16 मंजिला इमारत से पाइप के सहारे उतर गया था। उन्होंने बताया कि मुंबई पुलिस ने खुर्शीद को गिरफ्तार कर लिया था। उसे जेल भेज दिया गया। वहां वह कोरोना से संक्रमित हो गया था। मुंबई के एक निजी अस्पताल में उसका इलाज चल रहा था। इस दौरान वह पुलिस कर्मियों को चकमा देकर अस्पताल की 16 मंजिला इमारत से पाइप के जरिये उतर गया और अपने भाई के साथ फरार हो गया।

मुंबई के बंद फैक्ट्रियों को निशाना बनाते थे दोनों भाई

एसटीएफ के अनुसार दोनों भाई मुंबई के बंद फैक्ट्रियों को निशाना बनाते थे। वह वहां से तांबा, जस्ता आदि अपनी कार में लेकर फरार हो जाते थे और उसे बेचकर अच्छे रुपये कमाते थे। दोनों बदमाशों ने तमाम ऐसी घटनाओं की जानकारी पुलिस को दी है, जिसमें उनका नाम ही नहीं आ सका है।

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.