हाई प्रोफाइल केस -आखिर क्यों आईएएस महिला ने लगाए अपने आईएएस पति के ऊपर ये गंभीर आरोप

ख़बर शेयर करें

आम लोगों के लिए तलाक जैसी चीजें कई बार काफी परेशानी भरा हो जाता है. लेकिन जब मामला हाईप्रोफाइल हो तो ऐसे मामलों को मीडिया कवरेज भी मिलता है और लोगों से चटकारे लेकर पढ़ते हैं. ऐसा ही एक आईएएस दंपत्ति की आपसी तकरार का मामला लखनऊ में थाने तक पहुंचा जिसे देख पुलिस भी हैरान रह गए।


बता दें कि लखनऊ की रहने वाली एक महिला आईएएस ने अपने आईएएस पति पर गंभीर आरोप लगाए हैं. महिला का कहना है कि उसका पति शारीरिक रूप से संबंध बनाने के लिए अक्षम है. इसके साथ ही वह उसे धमकी देता है और मारपीट करता है कि यदि यह बात किसी और को बताई तो अच्छा नहीं होगा. आईएएस महिला ने अपने पति पर दबाव बनाकर भारी दहेज लेने का भी आरोप लगाया है. पुलिस मामले की जांच कर रही है।


महिला आईएएस द्वारा पुलिस को की गई शिकायत के अनुसार दोनों की शादी 5 मई 1990 को हुई थी जिसके बाद हनीमून के दौरान उन्हें पता चला कि उनका पति शारीरिक रूप से अक्षम है. लेकिन वह उल्टा उन पर शारीरिक अक्षमता का आरोप लगाते हुए मारपीट करने लगे. महिला आईएएस ने आरोप लगाया कि पति की इस शारीरिक कमजोरी के कारण उनका परिवार कभी पूरा नहीं हो सका. बताया कि उनके पति हमेशा ही किसी दूसरी महिला के पास चले जाना का धमकी देते थे और विरोध करने पर उनके साथ मारपीट करते हैं.


महिला IAS का आरोप है कि उसका पति उसके अकाउंट से पैसे निकाल लेता था और उसके हाथ में कुछ नहीं बचता था. शिकायत के अनुसार कुछ महीने पहले जब पीड़िता की मां कोरोना संक्रमित हो गई थी तो पति ने उसके खाते से 19.50 लाख रुपए निकाल लिए. जिसके बाद आईएस पत्नी का सब्र का बांध टूट गया और उसने पुलिस में शिकायत कर दी. कोतवाली पुलिस ने कहा कि मामला गंभीर है और हाई प्रोफाइल भी इसलिए जांच के बाद ही कुछ भी कहा जा सकेगा.


बताया कि कोविड के दौरान उन्हें ब्लैक फंगस जैसी गंभीर बीमारी हुई, लेकिन पति ने उन्हें इसकी जानकारी नहीं दी, ताकि समय पर मुझे इलाज न मिल सके और समस्या गंभीर होती जाए. वहीं शादी के इतने सालों बाद ऐसे आरोप लगाने को लेकर सवाल पर उन्होंने कहा कि परिवार को टूटने से बचाने के लिए वह इतने दिनों सारे दुख तकलीफ सहती रहीं, लेकिन अब मामला उनकी बर्दाश्त से बाहर हो चुका है.

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.