यहाँ विधयाक के गनर ने दिखाई हेकड़ी तो टोल कर्मियो ने फोड़ डाला सिर

ख़बर शेयर करें

बहादराबाद हरिद्वार एसकेटी डॉट कॉम

कहते हैं कि जब सितारे गर्दिश में होते हैं तो उस समय हेकड़ी भी नहीं चलती है ऐसा ही एक मामला हरिद्वार के बहादराबाद से आ रही है जहां खानपुर के निर्दलीय विधायक के उमेश कुमार के गनर के साथ घटना घटी जब वह अपने रिश्तेदारों के साथ किसी परिजन की अस्थियों को विसर्जित करने के लिए हरिद्वार जा रहा था। बहादराबाद टोल प्लाजा पर उसने खुद को पुलिसकर्मी बताते हुए गाड़ी को जाने देने को कहा इस पर टोल प्लाजा कर्मियों ने उसकी नहीं सुनी जिससे वह तमतमा गया इसी बीच टोल प्लाजा कर्मियों ने इकट्ठे होकर उसके साथ मारपीट कर दी बीच-बचाव करने के लिए उतरे रिश्तेदारों की भी पिटाई कर दी।

जानकारी के अनुसार झबरेड़ा से रिश्तेदारों संग किसी परिचित की अस्थियां विसर्जित करने हरिद्वार आ रहे खानपुर विधायक उमेश कुमार के गनर (उत्तराखंड पुलिस का सिपाही) का टोल प्लाजा कर्मियों ने मारपीट करते हुए सिर फोड़ दिया। गनर के साथ मौजूद अन्य लोगों के साथ भी मारपीट की गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने छह टोल कर्मियों को हिरासत में ले लिया। गनर की ओर से मुकदमा दर्ज नहीं कराया गया। पुलिस को टोल कर्मियों का शांतिभंग में चालान करना पड़ा।
हरिद्वार जिले की खानपुर विधानसभा से निर्दलीय विधायक उमेश कुमार शर्मा का गनर रिश्तेदारों के साथ किसी परिचित की अस्थि विसर्जन करने हरिद्वार आ रहे थे। सभी लोग कार में थे। कार टोल प्लाजा बहादराबाद पहुंची तो गनर ने खुद को उत्तराखंड पुलिस का सिपाही बताते हुए बैरियर हटाने का कहा, लेकिन कार का नंबर यूपी के सहारनपुर का था।
टोल प्लाजा कर्मियों ने बैरियर नहीं हटाया और टोल देने की बात कही। गनर ने उत्तराखंड पुलिस का आईकॉर्ड भी दिखाया। टोल प्लाजा कर्मी नहीं माने तो गनर कार से नीचे उतरा। इस बीच कहासुनी होने लगी। टोल कर्मियों ने अभद्रता शुरू करते हुए गाली गलौज शुरू कर दी। टोल प्लाजा के सभी कर्मी एकत्र हो गए और लाठी-डंडों से गनर की पिटाई कर दी।
गनर को पिटता देख कार में बैठे उनके रिश्तेदार बीच बचाव के लिए गए तो उनके साथ भी मारपीट हो गई। मारपीट में गनर का सिर फूट गया। मारपीट का पूरा वीडियो टोल प्लाजा पर लगे सीसीटीवी में कैद हो गया। सूचना पर बहादराबाद थाना प्रभारी नितेश शर्मा पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे। टोल प्लाजा के छह कर्मियों को हिरासत में लेकर थाने आ गए। सिपाही और रिश्तेदार अस्थि विसर्जन के लिए हरिद्वार चले गए। थाना प्रभारी नितेश शर्मा ने बताया कि गनर की ओर से कोई तहरीर नहीं दी गई। पुलिस ने छह कर्मियों का शांतिभंग में चालान करना पड़ा।
विधायक उमेश कुमार का कहना है कि बहादराबाद टोल प्लाजा पर उनकी कोई गाड़ी नहीं गई थी। इस मामले में बेवजह उनका नाम घसीटा जा रहा है। विवाद से उनका कोई लेनादेना नहीं है। इस मामले में उमेश कुमार ने अपना वीडियो जारी किया है।  इस बीच पुलिस ने गनर नेती राम व उसके साथ मौजूद लोगों के साथ मारपीट करने के मामले में अभिषेक सिंह निवासी परसपुर गोंडा यूपी, अर्पण कुमार निवासी गोमतीनगर लखनऊ, तुषार निवासी धौलपुर राजस्थान, अभिषेक निवासी रुहाना अशोकनगर, रोहित निवासी औरंगाबाद बिहार, असलम खान निवासी नागौर राजस्थान हॉल निवासी टोल प्लाजा बहादराबाद को गिरफ्तार करने के बाद न्यायालय में पेश किया

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.