यहाँ भाजपा शासित राज्य में भी सिर तन से जुदा की शंका, युवा मोर्चा के नेता प्रवीण की हत्या

ख़बर शेयर करें

बेंगलुरु एसकेटी डॉट कॉम

राजस्थान में सिर तन से जुदा की घटना के दोषियों को अभी सजा तो नहीं मिली लेकिन शासित राज्य कर्नाटक के दक्षिण कन्नड़ क्षेत्र में भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा के जिला सचिव प्रवीण नेतारू की धारदार हथियार से हत्या की गई. आशंका जताई जा रही है कि प्रवीण नेतारू की भी पी एफ आई से जुड़े संगठन के द्वारा हत्या कराई गई है यह शंका इसनेताओं लिए हुई है कि प्रवीण नेतारू ने भी राजस्थान के उदयपुर जिले में मारे गए कन्हैया लाल के ट्वीट का समर्थन किया था.

हिंदूवादी संगठनों ने ने सांसद को गिरते हुए जाम लगाया आरोप है कि इस हत्या में भी पीएफआई का हाथ है क्योंकि कुछ दिन पहले प्रवीण ने उदयपुर के कन्हैया लाल के ट्वीट के सपोर्ट में भी ट्वीट किया था.

दक्षिण कन्नड़ जिले में भारतीय जनता युवा मोर्चा (बीजेवाईएम) नेता प्रवीण नेत्तारू (Praveen Nettaru) की कुल्हाड़ी और तलवार से काटकर हत्या कर दी गई है। इस हत्याकांड के बाद से कर्नाटक में उबाल है।

मुख्यमंत्री बस और आज 2 मई और मृतक प्रवीण नेतारू

पुलिस पिछले महीने राजस्थान के उदपुर में कन्हैयालाल हत्याकांड (Kanhaiyalal Murder) से जोड़कर भी इस मामले की जांच कर रही है। प्रवीण ने 29 जून को कन्हैयालाल के समर्थन में पोस्ट की थी। पुलिस इसकी तफ्तीश कर रही है कि कहीं हत्या का संबंध कन्हैया के समर्थन वाली प्रवीण की फेसबुक पोस्ट से तो नहीं है। पुलिस ने इस बीच 15 लोगों को हिरासत में लिया है और उनसे पूछताछ हो रही है।

दूसरी ओर हिंदूवादी संगठन इस हत्याकांड में पॉप्युलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) पर भी उंगली उठा रहे हैं।तलवार, हंसिया और कुल्हाड़ी से हमला कर हत्या
दक्षिण कन्नड़ जिला बीजेपी युवा मोर्चा समिति के सदस्य प्रवीण नेत्तारू की मंगलवार रात को मोटरसाइकिल पर आए बदमाशों ने बेल्लारे में उनकी दुकान के सामने ही हत्या कर दी। वारदात में तलवार, हंसिया और कुल्हाड़ी का इस्तेमाल किया गया।

कर्नाटक के सीएम बोम्मई ने ट्वीट किया, ‘दक्षिण कन्नड़ में सुलिया के हमारे पार्टी कार्यकर्ता प्रवीण नेत्तारू की जघन्य हत्या की घटना निंदनीय है। इन जघन्य कृत्य में शामिल लोगों को जल्द ही गिरफ्तार किया जाएगा, उन्हें कानून के अनुसार सजा दी जाएगी।’नेत्तारू बीजेवाईएम के जिला सचिव थे। मंगलवार रात प्रवीण नेट्टारू जब दुकान बंद कर घर लौट रहे थे तभी बाइक सवार बदमाशों ने उनपर धारदार हथियार से हमला बोल दिया। कई दक्षिणपंथी समूहों ने हत्या के पीछे पॉप्युलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) और सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया (एसडीपीआई) का हाथ होने का शक जताया है।

प्रवीण बेल्लारे क्षेत्र के पास एक पोल्ट्री की दुकान चलाते थे। रात को जब वह घर लौट रहे थे तभी करीब 9 बजे उन पर बाइक सवार तीन अज्ञात लोगों ने धारदार हथियार से हमला किया। गंभीर रूप से जख्मी होने के कारण प्रवीण ने दम तोड़ दिया।दक्षिण कन्नड़ के एसपी सोनवणे ऋषिकेश ने बताया कि मामले में पड़ताल शुरू हो चुकी है।

वारदात की जगह अगर सीसीटीवी कैमरा लगा है तो उसकी फुटेज की जांच की जाएगी। इसके अलावा पुलिस ने पीड़ित के करीबियों से पूछताछ शुरू कर दी है। बीजेवाईएम नेता की हत्या के बाद कार्यकर्ताओं में रोष है। हत्या के विरोध में कार्यकर्ता रात में ही सड़कों पर बैठ गए।

प्रदर्शनकारियों ने अपराधियों की जल्द गिरफ्तारी की मांग की। विश्व हिंदू परिषद ने जिले के कडाबा, सूलिया और पुत्तुर तालुक में बुधवार को बंद का आह्वान किया है। कई दक्षिणपंथी समूहों ने हत्या के पीछे पीएफआई और एसडीपीआई के होने का शक जताया है।,

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने भरोसा दिया है कि इस जघन्य कृत्य में शामिल दोषियों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि दोषियों को कानून के अनुसार सजा दी जाएगी। गृह मंत्री अरागा ज्ञानेंद्र ने कहा कि जिस इलाके में यह घटना हुई है, वह केरल सीमा के नजदीक है और राज्य की पुलिस केरल पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों से संपर्क करके दोषियों को पकड़ने की कोशिश कर रही है।

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.