एक पर्सेंट कमीशन के चक्कर में पंजाब के हेल्थ मिनिस्टर कुर्सी गंवा बैठे

ख़बर शेयर करें



पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने राज्य के स्वास्थ मंत्री डा. विजय सिंगला को बर्खास्त कर दिया है। सिंगला पर करप्शन में लिप्त होने के आरोप हैं।
पंजाब में भ्रष्टाचार के खिलाफ भगवंत मान सरकार ने बड़ी कार्रवाई की है। पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने राज्य के स्वास्थ मंत्री डा. विजय सिंगला को अपनी कैबिनेट से हटा दिया है। डा. विजय सिंगला भ्रष्टाचार के आरोपों से घिरे हुए थे। कैबिनेट से हटाए जाने के बाद पंजाब पुलिस ने सिंगला को गिरफ्तार कर लिया। डा. विजय सिंगला के खिलाफ मुख्यमंत्री के निर्देशों पर मुकदमा भी दर्ज कर लिया गया है।


डा. विजय सिंगला पर आरोप हैं कि उन्होंने अपने विभाग से जुड़ा एक ठेका दिलवाने के लिए एक ठेकेदार से एक फीसदी कमीशन की मांग की थी।
मुख्यमंत्री का दावा है कि डा. विजय सिंगला के खिलाफ पक्के सबूत मिलने के बाद उनके खिलाफ कार्रवाई की गई है।



सीएम भगवंत मान ने कहा है कि, आम आदमी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने उनसे कहा था कि वो एक पैसे का भ्रष्टाचार भी बर्दास्त नहीं करेंगे।



डा. विजय सिंगला करीब 10 वर्ष पहले आम आदमी पार्टी में शामिल हुए थे। इस बार के चुनावों में उन्होंने मानसा से प्रसिद्ध गायक और कांग्रेस उम्मीदवार सिद्धू मूसेवाला को 60,000 से अधिक वोटों से हराया था।


पेशे से डाक्टर विजय सिंगला अपना डेंटल क्लीनिक चलाते हैं। उनकी पत्नी भी डाक्टर हैं। उनका बेटा भी एमडी कर रहा है।

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.