यूके एसएससी के खिलाफ युवाओं की गर्जना रैली की तैयारी और हाई कोर्ट में आज सुनवाई के बीच घिरती सरकार

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी /दून /नैनीताल एसकेटी डॉट कॉम

उत्तराखंड बेरोजगार संघ समेत तमाम सामाजिक और राजनीतिक संगठन के सहयोग से महा रैली के तैयारी जोर से चल रही है वही नैनीताल हाईकोर्ट में इस मामले में सीबीआई की जांच को लेकर दाखिल याचिका पर याची को दिए गए प्रश्न के उत्तर में आज कोर्ट की एकल पीठ में सुनवाई होनी है यूके एसएससी में जिस तरह से सीबीआई की जांच की मांग हो रही है उससे निश्चित रूप से सरकार पर दबाव बढ़ सकता है .

यह मामला के केंद्रीय नेतृत्व के संज्ञान में आने के बाद विगत दिनों भाजपा के पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने वित्त मंत्री प्रेमचंद्र अग्रवाल ने पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से भेंट की थी तथा उन्होंने अपना पक्ष नेतृत्व के सामने रखा यह माना जा रहा है कि सरकार विभिन्न संगठनों मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस की ओर से सीबीआई की जांच की मांग दिशा बदलने के लिए सरकार और संगठन के साथ सलाह मशवरा कर कुछ निर्णय लेगी. सरकार के कुछ मंत्रियों और संगठन में रहे लोगों जिन पर सीधे आरोप लगाया जा रहा है के खिलाफ कोई कार्रवाई भी अमल में लाई जा सकती है.

उत्तराखंड में यू.के.एस.एस.एस.सी.भरती पेपर लीक मामले के खिलाफ सी.बी.आई.जांच की मांग जोरों से उठ रही है। राज्य की बेरोजगार संघ के नेतृत्व में विभिन्न संगठनों ने पिछले दिनों देहरादून सचिवालय कूच किया था जिसमें हजारों युवाओं ने शक्ति प्रदर्शन किया और राज्य के अलग अलग जिलों में भी विरोध प्रदर्शन होने शुरू हो गए।

युवाओं ने UKSSS CBI जांच जनांदोलन नाम का व्हाट्स एप ग्रुप बनाया है, जिसमें लगभग 242 लोग जुड़े हुए हैं। इसमें गढ़वाल और कुमाऊं मंडल के बेरोजगारों के अलावा पत्रकार भी शामिल हैं। आक्रोशित युवा अब आगामी 14 तारीख को हल्द्वानी में होने वाली जनाक्रोश रैली की तैयारी कर रहे हैं। युवाओं ने न केवल बेरोजगार युवाओं को बड़ी संख्या में रैली में शामिल होने को कहा है बल्कि उन्होंने इसके लिए सरकार को जगाने वाले पोस्टर बैनर भी बना लिए हैं।

दावा किया जा रहा है कि इस रैली में विभिन्न सामाजिक संगठन, राजनीतिक संगठन, गैर राजनीतिक संगठन और आम बेरोजगार युवा भाग ले रहे हैं

।प्रस्तावित कार्ययक्रम के अनुसार 14 सितंबर को सभी एकजुट होकर एम.बी.पी.जी.कालेज में एकत्रित होंगे, यहां से वो एक रैली के रूप में तिकोनिया चौराहे पर अपने विचारों को रखेंगे और वहां से एस.डी.एम.कार्यलय में ज्ञापन सौपेंगे


उत्तराखंड के युवाओ के नाम अपील जारी करते हुए उत्तराखंड युवा एकता मंच ने आग्रह किया है कि देहरादून की तरह यहां भी सरकार और विपक्ष को युवाओ की शक्ति का अहसास कराना जरूरी है और यह लड़ाई युवाओ की है, इसलिए युवाओ को आगे आने की आवश्यकता है।

उत्तराखंड युवा एकता मंच के पीयूष जोशी ने बताया कि उत्तराखंड युवा एकता मंच के बैनर तले विभिन्न संगठन युवाओं की आवाज बन राज्य में भ्रष्टाचार के विरोध में आगामी महाआक्रोश रैली के लिए पहुंचेंगे ।

इस रैली में
उत्तराखंड बेरोजगार संघ, सुराज सेवा दल, यूथ कांग्रेस, हल्द्वानी ऑनलाईन सहायता समूह, आम आदमी पार्टी, उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी, परिवर्तनकामी छात्र संगठन व अन्य अपने पूरे दलबल के साथ समर्थन दे रहे है। पीयूष ने
आंदोलन की प्रमुख मांग बताते हुए कहा किके.पी.सी.एस.और यू.के.इस.एस.सी.में राज्य गठन के बाद अभी तक जितनी भी भर्तियां हुई हैं उनकी सी.बी.आई.जांच हो ।

उत्तराखंड के सभी नेताओं की निजी संपत्ति की जांच की जाए और जिन भ्रष्टाचारियों ने भ्रष्टाचार कर धन अर्पण किया गया है उनकी संपत्ति को लेकर राज्य कोष ने पैसा देते हुए युवाओं के विकास में उस धन को खर्च किया जाए।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.