गौला संघर्ष समिति का धरना समाप्त हुआ, इस निर्णय पर बनी सहमति, कल से खुलेंगे सभी गौला गेट

ख़बर शेयर करें

कई दिनों से गौला संघर्ष समिति के बैनर तले चल रहा वाहन स्वामियों का धरना प्रदर्शन आज समाप्त हो गया। वाहन स्वामियों और स्टोन क्रशर स्वामियों के विवाद का आज समाधान निकल गया। कल वाहन स्वामियों का एक शिष्टमंडल मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से मिला, जिसके बाद मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने पूर्व राज्य दर्जा मंत्री हेमंत द्विवेदी को इस समस्या का समाधान करने को कहा, जिसके बाद हेमंत द्विवेदी ने सभी क्रेशर स्वामियों और वाहन स्वामियों के बीच मध्यस्थता करते हुए समस्या का समाधान किया।

क्रेशर स्वामियों और वाहन स्वामियों के बीच ₹30 प्रति कुंतल से ₹33 प्रति क्विंटल के बीच रेट में सहमति हुई और ₹1 प्रति कुंटल अतिरिक्त उस वाहन स्वामी को दिया जाएगा जो पूरे सीजन एक ही क्रेसर में उप खनिज की ढुलाई करेगा, रुपए 30 प्रति क्विंटल उन वाहन स्वामियों को मिलेगा जो गौला के नजदीक वाले क्रेशर में उपखनिज की ढुलाई करेंगे और ₹33 प्रति क्विंटल उन वाहन स्वामियों को जो उप खनिज की ढुलाई दूरी वाले क्रेशर में करेंगे, जिसकी खास बात यह है कि यह रेट पूरे सीजन नहीं बदला जाएगा।

आज की बैठक का संचालन ग्राम प्रधान रमेश चंद जोशी ने किया जिसमें उन्होंने सभी वाहन स्वामियों और सभी गौला गेटो के प्रतिनिधियों का धन्यवाद किया और बधाइयां दी। ग्राम प्रधान शंकर जोशी, अध्यक्ष किसान सहकारी समिति मोटाहल्दू हेम चंद्र दुर्गापाल, प्रवीण दानू ने सभा में अपने विचार रखें और सभी वाहन स्वामियों को धन्यवाद और बधाइयां दी, उक्त सभी व्यक्तियों ने वरिष्ठ कांग्रेसी एन के कपिल, पूर्व कैबिनेट मंत्री हरीश चंद्र दुर्गापाल, भाजपा जिला अध्यक्ष प्रदीप बिष्ट, वरिष्ठ कांग्रेसी हरेंद्र बोरा, संध्या डालाकोटी, सीमा पाठक, ग्राम प्रधान विपिन चंद्र जोशी और अन्य सहयोगी जनप्रतिनिधियों का बहुत आभार प्रकट किया, भाजपा नेता हेमंत द्विवेदी ने जूस पिलाकर आंदोलन का समापन किया। साथ में सभी ने युवा भाजपा नेता हेमंत द्विवेदी का विशेष आभार और धन्यवाद प्रकट किया। सभी वाहन स्वामियों के बीच उक्त निर्णय से हर्ष का माहौल बना हुआ है और कल से सभी गौला गेट सुचारू रूप से खनन कार्य शुरू करेंगे जिसके कारण सभी के चेहरों में प्रसन्नता देखी।

भाजपा युवा नेता हेमंत द्विवेदी ने अपने विचार रखे और कहा कि यह मंच किसी राजनीतिक पार्टी का नहीं है यह लड़ाई रोजी रोटी की थी और जरूरत पड़ने पर भविष्य में मैं आप सबके साथ हूं आप सबको बधाई देता हूं कि आप लोगों की सहमति बन गई, आपने मुझे इस कार्य के लिए चुना इसके लिए आप सब का आभार प्रकट करता हूं।

ग्राम प्रधान रमेश चंद्र जोशी ने बताया कि मोटाहल्दू में कई दिनों से टेंट लगाकर गौला संघर्ष समिति आंदोलन कर रही थी जिसका आज परिणाम निकल चुका है आज सभी क्रेशर स्वामियों ने रेट लिस्ट लगा दी है जिस पर हम सभी सहमत हैं। सभी लोगों को आशा है कि अब सभी लोग सुचारू रूप से अपना कारोबार करेंगे और भविष्य में यदि ऐसा कोई संकट दोबारा से आता है तो सभी मिलजुल कर उसका सामना करेंगे।

आंदोलन के समापन कार्यक्रम में सैकड़ों संख्या में गौला खनन व्यवसाय से जुड़े वाहन स्वामी और जनप्रतिनिधि मौजूद रहे।

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.