सपा के पूर्व विद्यायक एवम कांग्रेस नेता का निधन

Ad
ख़बर शेयर करें

कॉन्ग्रेस के हरिद्वार से नेता रहे एवं सपा के पूर्व विधायक अमरीश कुमार का बीती रात लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया वह विगत 2 माह से बीमार थे और मैक्स हॉस्पिटल दिल्ली में अपना उपचार करा रहे थे उनके निधन से उनके समर्थकों मैं अशोक की लहर छा गई है।

अमरीश कुमार की राजनीति कांग्रेस से शुरू हुई और कांग्रेस से ही समापत हो गई। हालांकि उन्हें विधायक बनने का मौका समाजवादी पार्टी के झंडे एवं टिकट से मिला ।उत्तर प्रदेश विधान मंडल में उन्हें सर्वश्रेष्ठ विधायक का सम्मान भी दिया गया। भैया जी के नाम से प्रसिद्ध अमरेश कुमार शुरू में कांग्रेस में रहे और इंदिरा गांधी से उनके नजदीकी रिश्ते रहे

लेकिन संजय गांधी से पटरी नहीं बैठने के कारण वह कांग्रेस से टिकट भी नहीं ले पाए और उन्होंने कांग्रेस को छोड़ दिया उसके बाद उन्होंने अपना राजनीतिक क्रांतिकारी मंच शुरू किया जहां लोगों ने उन्हें काफी प्रेम दिया इसी प्रेम की वजह से उन्होंने कांग्रेश के महेश्वर राणा को को नाकों चने चबा दिए इस चुनाव में वह मात्र 71 मतों से पराजित हुए। उनकी लोकप्रियता बढ़ती गई। इसके बाद वह समाजवादी पार्टी में गए समाजवादी पार्टी के टिकट से वह 1996 में विधायक चुने गए।

अपने अकड़ स्वभाव की वजह से उनकी समाजवादी पार्टी में भी नहीं बन पाई और वह में वह कांग्रेसमें लौट आए कांग्रेश से टिकट नही मिल पाया। उन्होंने 2012 मे टिकट नही मिला उन्होंने निर्दलीय के तौर पर चुनाव लड़ा लेकिन फिर भी सफलता नहीं मिली।

2017 में वह कांग्रेस मे लौट आये और कांग्रेस में उन्हें टिकट दिया लेकिन फिर भी उन्हें सफलता नहीं मिली।2019 में कांग्रेस ने लोकसभा का टिकट लेकिन यहां भी रमेश पोखरियाल निशंक के हाथों पराजित हो गए हरीश कुमार हरिद्वार मैं सामाजिक और राजनीतिक क्षेत्र में जाना पहचाना नाम रहा है।

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *