उत्तरायणी मेला हुआ 40 वर्ष का ये लोक विख्यात कलाकार प्रस्तुति (देखें वीडियो)

ख़बर शेयर करें

हलद्वानी एसकेटी डॉट कॉम

भाबर क्षेत्र का सबसे पुरातन एवं लोक प्रसिद्ध पर्वतीय उयत्थान मंच में आयोजित होने वाला उत्तरायणी मेला 8 जनवरी से प्रारंभ होगा तथा 15 जनवरी तक यहां पर विभिन्न तरह के सांस्कृतिक व्यापारिक खेलकूद सामाजिक क्षेत्रों के कार्यक्रम आयोजित होंगे ।

8 जनवरी से प्रारंभ होने वाले इस मेले का शुभारंभ शनिवार 8 जनवरी को श्री गवेल्ज्यू जी मंदिर में पूजा अर्चना और आरती के बाद शुरू होगा पहले दिन जूनियर बच्चों की दौड़ होगी खो-खो प्रतियोगिता होगी और शाम को सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे। 9 जनवरी को विधिवत रूप से मेले का उद्घाटन किया जाएगा इसी दिन दुल्हन सजाओ ,लोक गीत लोक नृत्य प्रतियोगिता होगी बालीवाल प्रतियोगिता प्रारंभ की जाएगी तथा शाम को सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे। सोमवार 10 जनवरी को बच्चों की चम्मच दौड़ जलेबी दौड़ तथा कुमाऊनी भाषा में भाषण प्रतियोगिता होगी लोकगीत और लोकनृत्य सीनियर वर्ग के लिए आयोजित किया जाएगा वॉलीबॉल प्रतियोगिता 3:00 बजे से चलती रहेगी तथा सायं 5:00 बजे सांस्कृतिक कार्यक्रम शुरू होंगे ।11 जनवरी को चित्रकला प्रतियोगिता स्कूली बच्चों के लिए होगी यह प्रतियोगिता कुमाऊनी शैली में होगी कुमाऊनी आन काथ प्रतियोगिता भी आयोजित की जाएगी कुमाऊनी भाषा में कविता का पाठ होगा जिसमें बालक बालिकाएं हिस्सा लेंगे सांस्कृतिक कार्यक्रम रोज की भांति 5:00 बजे से शुरू होंगे ।

बुधवार 12 जनवरी को स्कूली बच्चों के लिए फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता होगी जिसमें शिशु बाल किशोर और युवा वर्ग के प्रतिभागी भाग लेंगे दिन में 12:00 बजे शंख बजाओ प्रतियोगिता होगी दिन में 2:00 बजे से कुमाऊन कवि सम्मेलन होगा सांस्कृतिक कार्यक्रम शाम 5:00 बजे से ही शुरू होंगे। गुरुवार 12 जनवरी को अपन प्रतियोगिता बेबी शो जिसमें 3 वर्ष के बच्चे ही भाग ले पाएंगे कुमाऊनी भाषा में नाट्य प्रतियोगिता होगी दिन में 2:00 बजे जोड़ा प्रदर्शन किया जाएगा तथा सांस्कृतिक कार्यक्रम शाम 5:00 बजे से चलेंगे शुक्रवार को छोलिया नृत्य प्रतियोगिता होगी और उसी दिन दिन में 12:00 बजे शोभायात्रा होगी शाम को 5:00 बजे सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे शनिवार को वॉलीबॉल प्रतियोगिता का फाइनल होगा पुरस्कार वितरण किए जाएंगे और शाम को 5:00 बजे रंगारंग कार्यक्रम होगा इस संबंध में जानकारी देते हुए मंच के अध्यक्ष तिवारी जी ने जानकारी दी।

मंच के संरक्षक भुवन चंद्र जोशी ने बताया कि कोविड-19 के तहत यह मेला आयोजित किया जा रहा है यहां पर लगने वाले सभी स्थानों को सनराइज किया जाएगा कोविड-19 के बाद ही यहां पर इनस्टॉल स्वामियों को आने की अनुमति होगी इसके अलावा गेट पर सैनिटाइजेशन की व्यवस्था की गई है प्रवेश करने वाले लोगों को मास्क लगाकर आना होगा। इसके अलावा 40 वर्ष पूरे होने पर इसमें कई लोग विख्यात कलाकार अपनी प्रस्तुति देंगे जिनमें फौजी ललित मोहन जोशी माया उपाध्याय दीपा नगरकोटी तथा खटीमा के कठैत भी भागीदारी करेंगे।

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *