विकास प्राधिकरण अजब गजब खेल – कृषि डिप्लोमा धारी को बना दिया जेई, जिन कॉन्प्लेक्स के किए नक्शे पास इनमें हो रही है धांधली बाजी की पुष्टि पढ़ें विस्तृत रिपोर्ट

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी एसकेटी डॉट कॉम हल्द्वानी विकास प्राधिकरण के खेल बड़े निराले हैं यहां नियम कायदे बन जाते हैं जिनके कहीं कोई भी शासनादेश में वर्णन नहीं होता है इसके अलावा ऐसा अजब गजब कार्य किया जाता है जिस किसी व्यक्ति को उस कार्य का कोई अनुभव नहीं होता अथवा उसे उस कार्य की कोई जानकारी नहीं होती है उसे वह जबरदस्ती सेटिंग के नाम पर वह कार्य सौंप दिया जाता है.इसमें कहीं ना कहीं बड़े अधिकारी की सहमति होती है.

ऐसा ही एक मामला नैनीताल जिला विकास प्राधिकरण के हल्द्वानी विनियमित कार्यालय में हुआ कृषि विभाग में कृषि का डिप्लोमा धारी मनोज अधिकारी को प्राधिकरण में जेई अर्थात जूनियर इंजीनियर के तौर पर तैनाती दी जाती है. यह देखने वाली बात है कि कहां कृषि का डिप्लोमा और कहां तकनीकी ज्ञान अथवा नपाई के काम में लगा दिया जाता है जो कि टेक्निकल कार्य होता है इसके लिए सिविल इंजीनियर की आवश्यकता होती है जो नाप जोख करता है.

इसी मनोज अधिकारी ने हल्द्वानी में कई बड़े कमर्शियल भवनो के नक्शे पास किए हैं. सूत्रों के अनुसार जिनमें प्रेम सिनेमा के पास मल्टी स्टोरी कांपलेक्स, मटर गली में व्यामशाला में बनाई गई कॉन्प्लेक्स और दुकानें और पंचक्की स्थित एक बड़े व्यवसाई की बिल्डिंग का नक्शा भी शामिल है यहां जानबूझकर इन्हें फायदा दिलाने के लिए वसूली कम की गई .

जिसके बाद मामला खुलने के बाद विकास प्राधिकरण को 15 लाख से अधिक की धनराशि उनसे दोबारा वसूली पड़ी.. अगर यह मामला नहीं खुलता तो सरकार को कम से कम 13 लाख रुपये की राजस्व की चपत दूर लग जाती.

यही नहीं बड़े नक्शे पास करने के लिए यह जमकर जेबे भी गर्म करता था ऐसा ही एक मामला रामपुर रोड आईटीआई निवासी एक व्यक्ति के साथ हुआ जहां उसने नक्शा पास करने के लिए एक लाख की रिश्वत मांगी बाद में उस व्यक्ति ने उसकी रिपोर्ट की उसके बाद जांच में द्वारा पैसे लिए जाने की पुष्टि हुई जिसके बाद विकास प्राधिकरणबोर्ड ने आनन-फानन में कारवाही करते हुए उन्हें उनके मूल विभाग कृषि में भेज दिया गया. इसके बावजूद उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई.

प्रेम सिनेमा के पास और मटर गली के व्यायामशाला में हुए निर्माण को तत्कालीन सिटी मजिस्ट्रेट हरवीर सिंह द्वारा सीज किया गया लेकिन इसके बावजूद उस पर कार्य चलता रहा. प्रेम सिनेमा के पास बंद है मल्टीस्टोरी कॉन्प्लेक्स नक्शे में बड़ा गड़बड़झाला रहा है.

35 फुट से ज्यादा नीचे खोदे जाने का प्रावधान नहीं होने के बावजूद उसका नक्शा पास कराया गया और इतनी गहरी खुदाई के जब बगल में जा रही सड़क को नुकसान हुआ तब जाकर प्रशासनकी नींद टूटी. इसके अलावा इस नक्शे में कहीं भी फ्रंट बैक साइड में सेट बैक अथवा जगह नहीं छोड़ी गई है इसके बावजूद नक्शा पास किया गया. प्रेमसिनेमा के पास बं रहा है मल्टीकंपलेक्स जिसमें 2 मंजिला पार्किंग का प्रावधान बताया गया उसमें शहर के कई नामचीन लोगों की पार्टनरशिपबताई जाती है . जबकि लोगों के सामने कांपलेक्स स्वामी के तौर पर के नाम पर किसी अन्य व्यक्ति को खड़ा कर दिया गया था.

. इसके अलावा शहर की धरोहर एन बी इंटर कॉलेज भूमि पर भी कांपलेक्स बनाए जाने के बाद आई है इतना भी बड़ा गड़बड़झाला होने की बात कही गई है. यहां पर भी कॉलेज के नाम पर बनाया गया ट्रस्ट लोगों के नाम पर ट्रांसफर होने के बात सामने आ रही है.

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.