एम्स के सर्वर पर साइबर हमला, हैक कर मांगे 200 करोड़!

ख़बर शेयर करें


अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) दिल्ली का सर्वर छठे दिन भी डाउन है। आधिकारिक सूत्रों के हवाले से मीडिया ने रिपोर्ट किया है कि हैकर्स ने कथित तौर पर AIIMS दिल्ली से क्रिप्टोकरंसी में अनुमानित 200 करोड़ रुपए की मांग की है क्योंकि इसका सर्वर लगातार छठे दिन खराब रहा। बता दें बीते बुधवार को सुबह सात बजे सर्वर बंद हो गया जिसके चलते बहिरंग रोगी विभाग (ओपीडी) और नमूना संग्रह सेवाएं प्रभावित हुईं। एक आधिकारिक सूत्र ने कहा कि सर्वर डाउन होने के कारण ओपीडी और नमूना संग्रह सेवाएं प्रभावित हुईं।


हैकर्स द्वारा एम्स से फिरौती मांगने की खबर आने के बाद दिल्ली पुलिस का बयान आया है। दिल्ली पुलिस के मुताबिक हैकर्स ने कोई फिरौती नहीं मांगी है


लगातार बढ़ रहे हमले
जुलाई में आई साइबर सिक्योरिटी कंपनी नॉर्टन की एक रिपोर्ट में कहा है कि भारत में साल 2022 के पहले तीन महीनों में ही 1.8 करोड़ साइबर हमले हुए हैं। इसका मतलब है कि इंडियन कंप्यूटर इमरजेंसी रिस्पॉन्स टीम (CERT-In) ने हर दिन 200,000 साइबर हमले दर्ज किए हैं।


साल 2021 में भी हुए हमले
IBM’s X-फोर्स थ्रेट इंटेलिजेंस टीम के अनुसार, साल 2021 की बात करें तो भारत एशिया के उन टॉप तीन देशों में शामिल था जिनके सर्वर में सबसे ज्यादा एक्सिस और रैनसमवेयर हमले हुए हैं। साइबर सिक्योरिटी कंपनी ट्रेलिक्स का कहना है कि 2021 की चौथी तिमाही (Q4) में रैनसमवेयर गतिविधियों में 70 फीसदी तक की बढ़त दर्ज की गई है।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.