ब्रेकिंग– इस तरह से धामी ने रचा इतिहास मिले 57268 वोट, कांग्रेस की जमानत भी नहीं बची

ख़बर शेयर करें

चंपावत एसकेटी डॉट कॉम

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रदेश के सभी उपचुनाव के रिकॉर्ड तोड़ते हुए ऐतिहासिक जीत दर्ज कर ली है उन्होंने चंपावत के उपचुनाव में 57,268 मत प्राप्त करते हुए कांग्रेस के प्रत्याशी को 54 हजार से अधिक मतों से पराजित कर दिया है।

कांग्रेस न सिर्फ बड़ी हार के लिए खड़ी खड़ी थी बल्कि वह अपने प्रत्याशी की जमानत भी नहीं बचा पाई कई भूतों पर तो कांग्रेस को 0 मत मिले ऐसा लगता है कि सभी कांग्रेसियों ने अपने पार्टी के प्रत्याशी के बजाय मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को वोट दे दिए हो इसके अलावा सपा के समर्थन से चुनाव में खड़े हुए मनोज कुमार को 409 मत हिमांशु को 399 का नोटा को 272 मत प्राप्त हुए।

सीएम पुष्कर सिंह धामी ने अब तक के सभी उपचुनाव का रिकॉर्ड तोड़ते हुए सबसे बड़ी जीत हासिल की है इससे पहले जो सबसे बड़ा रिकॉर्ड था वह कांग्रेस के मुख्यमंत्री के तौर पर विजय बहुगुणा का था जिन्होंने तत्कालीन भाजपा प्रत्याशी को 39 हजार से अधिक मतों से पराजित किया था उत्तराखंड के इतिहास में किसी उपचुनाव में इतने मतों की जीत किसी भी प्रत्याशी की नहीं हुई है। चाहे वह विकास पुरुष पंडित नारायण दत्त तिवारी रहे हो अथवा मेजर जनरल भुवन चंद्र खंडूरी। यहां कुल पड़े 61595 मतों में से पुष्कर सिंह धामी को 57265 मत मिल गए इसके अलावा पोस्टल मतों की गिनती अभी इसमें जोड़ी जानी है कुल मिलाकर कहा जाए तो 55 नंबर की चंपावत विधानसभा 55 हजार से अधिक मतों से जीत की ओर बढ़ गए हैं अब मुख्यमंत्री को निर्वाचन अधिकारी से निर्वाचन प्रमाण पत्र लेना है। इतनी प्रचंड जीत के बाद पुष्कर सिंह धामी ने आलाकमान द्वारा उन्हें दुबारा मुख्यमंत्री बनाए जाने के फैसले को सही ठहरा दिया है।

इसके बाद मुख्यमंत्री ताबड़तोड़ फैसले लेंगे चंपावत की जनता को निश्चित रूप से बहुत बड़ी योजनाओं का पिटारा मिलने की उम्मीद बढ़ गई है। खटीमा की जनता मुख्यमंत्री की इस जीत पर जहां खुश हो रही होगी वहीं उन्हें पछतावा भी हो रहा होगा कि उन्होंने मुख्यमंत्री के पक्ष में मतदान ना कर अपने विकास के रास्ते में रोड़े अटका दिए हैं

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.