बड़ी खबर-यहां चलती ट्रेन के AC कोच में महिला से गैंगरेप,TTE ने की वारदात

ख़बर शेयर करें

लिंक एक्सप्रेस में महिला के साथ गैंगरेप की बड़ी घटना हुई है। घटना राजघाट से अलीगढ़ रेलवे स्टेशन के बीच की है। फर्स्ट एसी के केबिन में टीटीई ने अपने एक साथी के साथ वारदात को अंजाम दिया। महिला की शिकायत पर जीआरपी ने टीटीई को गिरफ्तार कर लिया है। एक अन्य आरोपी की तलाश जारी है। महिला अपने 2 साल के बच्चे के साथ सफर कर रही थी।

घटना 16 जनवरी की है। लेकिन महिला ने 5 दिन बाद 21 जनवरी को जीआरपी थाना चंदौसी में मुकदमा दर्ज कराया। इससे पहले पीड़िता ने 20 जनवरी की शाम रेलवे के कस्टमर केयर नंबर 139 पर शिकायत भी दर्ज कराई। शनिवार की शाम एसपी जीआरपी मुरादाबाद अपर्णा गुप्ता रेलवे स्टेशन पहुंचीं और महिला के बयान लिए। महिला को मेडिकल परीक्षण के लिए भेजा है।

जानकारी के मुताबिक महिला अपने दो साल के बच्चे के साथ संभल के चंदौसी रेलवे स्टेशन से सूबेदारगंज (प्रयागराज) जाने के लिए लिंक एक्सप्रेस ट्रेन का इंतजार कर रही थी। इसी दौरान चंदौसी रेलवे स्टेशन पर पोस्टेड टीटीई राजू सिंह उसके पास पहुंचा। बातचीत कर उसे एसी के फर्स्ट कोच में बैठने को कहा। इसके कुछ देर बाद टीटीई अपने साथी के साथ कंपार्टमेंट में पहुंचा और महिला के साथ गैंगरेप किया।

चंदौसी रेलवे स्टेशन पर पोस्टेड है टीटीई

मुरादाबाद के सीओ जीआरपी देवीदयाल ने बताया कि घटना एसी कोच में हुई है। पीड़िता ने गैंगरेप की FIR कराई है। महिला चंदौसी की रहने वाली है। टीटीई भी वहीं पोस्टेड है। उसको गिरफ्तार कर लिया गया है।

अब पढ़िए महिला ने पुलिस को दी तहरीर में क्या लिखा है…

“मैं सूबेदारगंज जाने के लिए 16 जनवरी को रात 8 बजे चंदौसी रेलवे स्टेशन पर ट्रेन का इंतजार कर रही थी। मेरे साथ मेरा 2 साल का बच्चा भी था। मैंने जनरल का टिकट ले रखा था। इसी दौरान टीटीई राजू सिंह मेरे पास आए। मैं उन्हें 3-4 सालों से जानती हूं।

उसी दौरान टीटीई ने पूछा कि आप अकेले बच्चे के साथ कहां जा रही हैं। आपके पास कौन सा टिकट है। इस पर मैंने अपने पास जनरल टिकट होने की बात बताई। राजू सिंह ने कहा कि बच्चे के साथ जनरल कोच में इतना लंबा सफर कैसे करोगी। तुम फर्स्ट एसी के केबिन B में जाकर बैठ जाओ, खाली है।

मैंने मना किया कि मेरे पास एसी का टिकट नहीं है। इस पर राजू सिंह ने कहा कि चिंता मत करो अलीगढ़ तक मेरी ड्यूटी है। ट्रेन में जाकर अलीगढ़ तक के लिए निश्चिंत होकर बैठ जाओ। फिर चाहे जनरल कोच में बैठ जाना।

टीटीई की बात मानकर उसी केबिन में जाकर बैठ गई। रात 9:55 बजे के करीब राजू अपने एक और दोस्त के साथ केबिन में आया। उसने खाना खाने की बात कही। लेकिन मैंने खाना खाने से इनकार कर दिया। इसके बाद पानी की बोतल पकड़ाते हुए कहा कि पानी पी लो। मैंने पानी पिया और अपने बच्चे को भी पिलाया।”

ये फोटो महिला हेल्प डेस्क थाना जीआरपी चंदौसी का है। जहां पर महिला ने शिकायत की थी। – Dainik Bhaskar
ये फोटो महिला हेल्प डेस्क थाना जीआरपी चंदौसी का है। जहां पर महिला ने शिकायत की थी।
बच्चे को ऊपर की सीट पर लिटाया, लाइट बंद कर किया दुष्कर्म
“लगभग 5 मिनट बाद मुझे चक्कर आने लगा। मैंने कहा मुझे चक्कर क्यों आ रहा है। इस पर टीटीई ने कहा कि रात के 10 बज रहे हैं, शायद आपको नींद आ रही होगी। उसने कहा कि आप सो जाओ, और हंसते हुए उसने दरवाजा बंद कर दिया। दरवाजे पर पर्दा लगा दिया और लाइट बंद कर दी। मेरे 2 साल के बच्चे को ऊपर वाली सीट पर लिटा दिया। उसके बाद दोनों ने मेरे साथ गैंगरेप किया।

जब मुझे होश आया तो मैं डरी हुई थी। मैं दूसरे एसी कोच में जाकर महिला यात्रियों के साथ बैठ गई। 17 जनवरी की सुबह साढ़े पांच बजे सूबेदारगंज पहुंची। पहले लोकलाज के चलते कोई शिकायत नहीं की। पति को वारदात के बारे में बताई तो उन्होंने 20 जनवरी की शाम रेलवे के कस्टमर केयर नंबर 139 पर शिकायत दर्ज कराई।”

सामूहिक दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज
इसके बाद शनिवार को पति के साथ चंदौसी जीआरपी थाने पहुंची और घटना की तहरीर दी। जीआरपी ने तहरीर के आधार पर आरोपी टीटीई व एक अज्ञात के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कर लिया है।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.