भगवंत मान हुए डॉक्टर गुरप्रीत कौर के, केजरीवाल ने पिता के तौर पर दिया आशीर्वाद इस सांसद ने निभाई गुरप्रीत के भाई की भूमिका

ख़बर शेयर करें

चंडीगढ़ एसकेटी डॉट कॉम

पंजाब के सीएम भगवंत मान 48 वर्ष की उम्र में 32 डॉक्टर गुर प्रीत कौर के साथ के साथ वैवाहिक बंधन में बध गए. मुख्यमंत्री के चंडीगढ़ स्थित आवास पर सादगी के साथ हुए इस विवाह समारोह में आम आदमी पार्टी के केंद्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पहुंचकर उन्हें वैवाहिक जीवन के सुखमय होने का आशीर्वाद दिया.

मुख्यमंत्री भगवंत मान अपने से 16 वर्ष छोटी डॉक्टर गुरप्रीत कौर के साथ वर्ष 2015 से ही मिलते रहते थे. पहली पत्नी के तलाक की अर्जी के बीच जब वह कैलिफोर्निया अमेरिका नहीं जाने की बात तय कर चुके थे तो उनके परिजनों ने उन्हें शादी करने की सलाह दी के फल स्वरुप उनकी माता हरलीन कौर और बहन मनप्रीत की पसंद के फल स्वरुप उन्होंने डॉ गुरप्रीत से जोड़ने का निर्णय ले लिया.

बड़े सादगी पूर्ण वातावरण में हुई इस शादी में याद से राज्यसभा सांसद राघव चड्ढा ने डॉक्टर गुरप्रीत के भाई की भूमिका निभाई उन्होंने आया कि डॉ गुरप्रीत कौर अपनी तीनों बहनों में सबसे छोटी है हरियाणा की रहने वाली है तथा उन्होंने अंबाला से एमबीबीएस की पढ़ाई की है.

भगवंत मान के कार्यक्रम में वीआईपी लोगों ने भी शिरकत की लेकिन इस समारोह को हाउस कथा के अनुसार ही छोटा रखा गया था जिसमें दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल शिक्षा मंत्री सिसोदिया समेत कई जानी-मानी हस्तियों ने भागीदारी की . राजनीतिक रूप से वर्ष 2012 से सक्रिय राजनीति में है उन्होंने एक बार विधानसभा का चुनाव लड़ा था लेकिन सफल नहीं हो पाए लेकिन वर्ष 2014 में उन्होंने आम आदमी पार्टी के टिकट से संगरूर से लोकसभा का चुनाव जीता जिसके बाद वह लोकप्रिय होतेगए.

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.