70 साल की उम्र में 1600 फिट ऊंची छलांग लगाकर लोगों को किया हैरान

ख़बर शेयर करें



नैनीताल निवासी और वर्तमान में पुणे में रह रहे 70 साल के सेवानिवृत्त कर्नल डॉ. गिरजा शंकर मुनगली के हौंसले इस उम्र में भी बुलंद हैं। उनका साहसिक कारनामा देखकर हर कोई हैरान रह गया। जब उन्होंने 1600 फिट की ऊंचाई से विमान से पैराजंपिंग कर छलांग लगा दी। इसके बाद हर जगह पूरे देश में उनकी सराहना की जा रही है।


भारतीय सेना से कर्नल के पद से सेवानिवृत्त हुए डॉक्टर मुनगली सेना के साहसिक विभाग के प्रमुख थे। उन्होंने सेना में कई अहम पद पर रहकर कई मिशन पूरे किए वह भारत और बांग्लादेश के बीच संयुक्त राफ्टिंग अभियान में शामिल रहे। डॉक्टर मुनगली पीएचडी भी कर चुके हैं। सेना में रहते हुए साहसिक विभाग के प्रमुख होने के नाते उन्होंने हिमालय में कोई ऊंची चोटियों और उनके अभियानों को सफलतापूर्वक पूरा किया साथ ही वह वर्तमान में एशियाई फुटबॉल परिसंघ के टास्क फोर्स के सदस्य भी हैं। वह उद्योगपति भी हैं।


वायु सेना के पैराशूट ब्रिगेड महोत्सव तेरा रियूनियन 2022 के दौरान उन्होंने आगरा में वायु सेना प्रशिक्षण में एयरवेज पर 1600 फीट की ऊंचाई से एक विमान से पैराजंपिंग की। इस प्रशिक्षण में उनके साथ 35 अन्य लोग भी शामिल थे, लेकिन वह टीम में सबसे उम्रदराज थे। डॉ. मुनगली के मुताबिक प्लेन से कूदने के बाद जमीन पर सुरक्षित लैंड करने में बहुत ज्यादा खतरा होता है। जब तक आपका पैराशूट पूरी तरह से खुल नहीं जाता तब तक सब कुछ ठीक नहीं होता है।


डॉ. मुनगली को उनके इस साहसिक काम के लिए उत्तराखंड ग्वालसेवा संस्थापक अधिवक्ता पंकज कुलौरा, युवाशक्ति प्रदेश अध्यक्ष आशीष दुम्का, महिला शक्ति प्रदेश अध्यक्ष डॉ रेखा पांडे, अधिवक्ताशक्ति प्रदेश अध्यक्ष मनोज साहनी तथा इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन के महासचिव राजीव मेहता, नैनीताल होटल एंड रेस्टोरेंट के अध्यक्ष दिग्विजय सिंह बिष्ट व सचिव वेद साह, उत्तराखंड ताइक्वांडो फेडरेशन के महासचिव चंद्रविजय सिंह बिष्ट, जिला बार एसोसिएशन के अध्यक्ष नीरज साह, अधिवक्ता बहादुर सिंह पाल, उत्तराखंड सम्मान संघ के संयोजक हेमंत बोरा, जिला पंचायत उपाध्यक्ष आनंद सिंह दरम्वाल ने बधाई दी है।

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.